ब्रेकिंग न्यूज़
Home » Tri-city » चंडीगढ़ नगर निगम के 22वें मेयर बने देवेश मोदगिल –
चंडीगढ़ नगर निगम  के 22वें मेयर बने देवेश मोदगिल –

चंडीगढ़ नगर निगम के 22वें मेयर बने देवेश मोदगिल –

चंडीगढ़। नगर निगम चंडीगढ़ में सांसद किरण खेर व पूर्व भाजपा सांसद सत्यपाल जैन के कट्टर समर्थक देवेश मोदगिल नये महापौर निर्वाचित हो गए है। देवेश मोदगिल ने कांग्रेस के प्रत्याशी देवेन्द्र बबला को  18 मतों से पराजित कर जीत दर्ज की है। इसी प्रकार वरिष्ठ उपमहापौर के पद पर गुरप्रीत सिंह ढिल्लों ने अपनी विरोधी कांग्रेसी प्रत्याशी शीला फूल सिंह को 17 मतों से जीत दर्ज कर बाजी मारी है। जबकि उपमहापौर के पद पर भाजपा के विनोद अग्रवाल ने कांग्रेसी प्रत्याशी रविन्द्र कौर को 18  मतों से पराजित किया है। इस जीत से जहां सांसद किरण खेर का कद बढ़ गया, वहीं भाजपा के पूर्व सांसद सत्यपाल जैन की भी पार्टी पकड़ मजबूत हो गई है।
चुनाव परिणामों के आने के तुरन्त बाद किरण खेर ने जैसे ही विजयी चिन्ह बनाया, राजनीतिक क्षेत्र में इस बात को लेकर कटाक्ष शुरू हो गए हैं कि अब किरण खेर का कद और बढ़ गया है। जैसे निगम के असेंबली हाल में आज सुबह  11.15  बजे चुनावी प्रक्रिया शुरू होने के पहले ही सभी २६ पार्षद और सांसद श्रीमती किरण खेर वहां पहुंच चुके थे। आज पड़े निगम में कुल  27 वोटों में से  22 मत लेकर सबसे पहले देवेश मोदगिल को मेयर निर्वाचित कर दिया गया। उन्होंने कांग्रेस के अपने प्रतिद्वंद्वी देवेन्द्र सिंह बबला को   5 के मुकाबले   22  मतों से पराजित कर मेयर की कुर्सी पर कब्जा कर लिया।
इस चुनावी प्रक्रिया को नगर के डीसी अजीत बालाजी जोशी और पीठासीन अधिकारी सतप्रकाश अग्रवाल की देखरेख में अंजाम दिया गया। इसके बाद सीनियर डिप्टी मेयर के चुनाव में भाजपा के गुरप्रीत सिंह ढिल्लों ने कांग्रेस की श्रीमती शीला फूल सिंह को 6के मुकाबले  21मतों से पराजित कर कुर्सी पर कब्जा जमाने में कामयाब रहे। इसी प्रकार डिप्टी मेयर पद के लिए भाजपा के विनोद अग्रवाल ने कांग्रेस प्रत्याशी रविन्द्र कौर गुजराल को 4 के मुकाबले  22 मत लेकर उन्हें पराजित कर विजय हासिल की। इसमें एक वोट इनवैलिड हो गई थी।

 

 

 

पार्टी बैठक में सभी पहलुओं पर चिन्तन करेंगे : टंडन—

चंडीगढ़ प्रदेश भाजपाध्यक्ष संजय टंडन ने कहां कि उनकी अपनी पार्टी की कुल 21 वोटें थीं, वह सब भाजपा प्रत्याशियों को मिली हैं, ऐसा उनका मानना है पर कांग्रेस मेयर प्रत्याशी बबला और सीनियर डिप्टी मेयर शीला देवी को उनकी सदस्य संख्या से अधिक मत मिलने पर उन्होंने कहा कि पार्टी की बैठक में इस मामले पर चिन्तन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि निगम के मेयर, सीनियर डिप्टी मेयर और मेयर पद पर उनके तीनों प्रत्याशियों की बहुमत से जीत बड़ी कामयाबी है।
पार्टी के चंडीगढ़ प्रभारी दिनेश कुमार ने भी कहा कि तीनों पदों पर भाजपा प्रत्याशियों की जीत बड़ी उपलब्धि है। पर कांग्रेस प्रत्याशियों को उनकी संख्या से ज्यादा मत मिलने के सवाल को वह टाल गए।

 

 

 

 

 

मोदगिल का पहला सम्बोधन —

मोदी के ‘न्यू इंडिया’को चंडीगढ़ में साकार करेंगे : मोदगिल

चंडीगढ़। जीत के बाद नये मेयर देवेश मोदगिल ने अपने संबोधन में कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ‘न्यू इंडियाÓ मेकिंग परियोजना को चंडीगढ़ में लागू करने का प्रयास करेंगे। इसके अलावा नगर वासियों को अतिरिक्त पेयजल की सप्लाई के लिए प्राथमिकता देंगे। उन्होंने कहा कि अब वह पूरे शहर के मेयर हैं। इसलिए पक्ष-विपक्ष के सभी पार्षदों के सहयोग और उनकी सलाह-मशविरा के बाद ही कोई नया निर्णय लेंगे। उन्होंने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि शहर की भलाई और विकास की नयी ऊंचाइयों पर पहुंचने के लिए वह पूर्व केंद्रीय मंत्री पवन बंसल, सत्यपाल जैन और हरमोहन धवन से भी सहयोग लेने का प्रयास करेंगे। उन्होंने भावुक होते हुए कहा कि जिस प्रकार पीएम मोदी एक साधारण परिवार की पृष्ठभूमि से हैं, उसी प्रकार वह भी (मोदगिल) एक अति साधारण परिवार की पृष्ठभूमि से संबंध रखते हैं। इसलिए वह अपने आप को मेयर की बजाय ‘नगर सेवकÓ के रूप में काम करना पसंद करेंगे। लायंस कंपनी पर पूछे गये सवाल पर उनका कहना था कि वह पहले पूरे मामले की स्टडी करेंगे, उसके बाद ही किसी निर्णय पर पहुंचेंगे। इसके अलावा निगम की सभी प्रक्रियाओं में पारदर्शिता लाने का हर संभव प्रयास करेंगे। उन्होंने श्रीमती किरण खेर, संजय टंडन और भाजपा के सभी पार्षदों के अलावा मनोनीत पार्षदों का भी उनकी जीत दिलाने के लिए धन्यवाद किया। पूर्व मेयर आशा जसवाल से माफी मांगने पर उनका कहना था कि पार्टी हित सर्वोपरि है। जो पार्टी हित में ठीक लगा वही उन्होंने किया।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Share