काली फिल्म की निर्माता को अयोध्या हनुमानगढ़ी के महंत ने दी धमकी, बोले- क्या इच्छा है? तुम्हारा भी सिर तन से जुदा हो जाए!
काली फिल्म की निर्माता को अयोध्या हनुमानगढ़ी के महंत ने दी धमकी

काली फिल्म की निर्माता को अयोध्या हनुमानगढ़ी के महंत ने दी धमकी, बोले- क्या इच्छा है? तुम्हारा भी सि

काली फिल्म की निर्माता को अयोध्या हनुमानगढ़ी के महंत ने दी धमकी, बोले- क्या इच्छा है? तुम्हारा भी सिर तन से जुदा हो जाए!

डॉक्यूमेंट्री फिल्म ‘काली’ (Film Kaali) के पोस्टर को लेकर विवाद बढ़ता ही जा रहा है. इसी कड़ी में अयोध्या में स्थित हनुमानगढ़ी के महंत ने फिल्म निर्माता को धमकी दी है. महंत ने कहा है कि ‘क्या इच्छा है? तुम्हारा भी सिर तन से जुदा हो जाए! हनुमानगढ़ी के महंत राजू दास ने मंगलवार को कहा कि जो दुस्साहस फिल्म मेकर ने किया है, वह क्षम्य है, उन्हें माफी भी मिल सकती है, लेकिन अगर यह फिल्म रिलीज हो गई तो हम वह स्थिति उत्पन्न कर देंगे कि कोई संभाल नहीं पाएगा. उन्होंने आगे कहा कि सनातन धर्म, संस्कृति और हमारे हिंदू देवी देवताओं का मजाक उड़ाया जाना निंदनीय है.

आपको बता दें कि फिल्म के पोस्टर में काली माता को सिगरेट पीते हुए दिखाया गया है. पोस्टर के रिलीज होते ही धार्मिक भावनाएं भड़काने के आरोप में फिल्म निर्माता को लेकर कई राज्यों में आक्रोश व्याप्त है. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ और दिल्ली में फिल्म निर्माता लीना मणिमेकलई के खिलाफ मुकदमा दर्ज हुआ है. वहीं, मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भी प्रतिक्रिया देते हुए फिल्म निर्माता पर मुकदमा दर्ज कराने के निर्देश दिए हैं.

महंत ने गृहमंत्री से की फिल्म निर्माता पर कार्रवाई की मांग

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, रामनगरी अयोध्या के हनुमानगढ़ी के महंत राजू दास ने गृहमंत्री से मांग की कि फिल्म निर्माता के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए. फिल्म पर बैन लगाया जाए. महंत ने यह भी कहा कि सनातन धर्म, संस्कृति और हमारे हिंदू देवी देवताओं का मजाक उड़ाया जाना निंदनीय है. यह फिल्म रिलीज हो गई तो हम वह स्थिति उत्पन्न कर देंगे कि कोई संभाल नहीं पाएगा.

दिल्ली और UP में केस दर्ज

यूपी पुलिस ने हिंदू देवताओं के अपमानजनक चित्रण के बारे में अपनी फिल्म काली के लिए फिल्म निर्माता लीना मणिमेकलई के खिलाफ आपराधिक साजिश, पूजा स्थल पर अपराध, जानबूझकर धार्मिक भावनाओं को आहत करने के इरादे से शांति भंग करने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज की है. मुकदमा यूपी की राजधानी लखनऊ स्थित हजरतगंज थाने में दर्ज हुआ है. वहीं, दिल्ली पुलिस ने भी बताया कि IFSO इकाई ने काली फिल्म से संबंधित एक विवादास्पद पोस्टर के संबंध में IPC की धारा 153A और 295A के तहत प्राथमिकी दर्ज की है.