जाति छिपा की सगाई, दुल्हन ने तोड़ी शादी
जाति छिपा की सगाई

जाति छिपा की सगाई, दुल्हन ने तोड़ी शादी

जाति छिपा की सगाई, दुल्हन ने तोड़ी शादी

नोएडा। दादरी क्षेत्र में एक ऐसा मामला प्रकाश में आया है, जिसमें बारात आने से एक दिन पहले जाति पता चलने पर शादी टूट गई। वर पक्ष के लोगों पर वधु पक्ष ने आरोप लगाया है कि उन लोगों ने जाति छिपाकर लग्न सगाई की और शादी की तैयारी में थे।

वधु पक्ष ने करीब छह लाख रुपये खर्च करके चार दिन पहले लग्न सगाई की थी। पीड़ित ने मामले की शिकायत दादरी कोतवाली पुलिस से की है। दादरी क्षेत्र में रहने वाले लड़की के भाई आजाद का आरोप है कि बुलंदशहर के भराना गांव निवासी मांगेराम दो महीने पहले पड़ोस में आया था।

पीडि़त की मां ने अपनी बेटी की शादी के लिए वर के बारे में जिक्र किया। आरोप है कि मांगेराम ने लड़की पक्ष की जाति का होने का दावा किया और शादी पक्की कर ली। 15 मई को वधु पक्ष ने वर को देखकर शादी तय कर ली और 18 जून का लग्न सगाई हो गई।

वधु पक्ष का लग्न सगाई में करीब छह लाख का खर्चा हुआ। 22 जून की तिथि शादी के लिए तय की गई थी। फेरों के सामान को लेकर 21 जून को वधु पक्ष ने फोन पर बात की तो पता चला कि वर पक्ष वाले गुर्जर जाति के हैं और वधु पक्ष जाटव जाति की है। इस बात को लेकर वधु पक्ष वालों ने शादी करने से इन्कार कर दिया।

कार्ड छपवाने के साथ चल रही थी तैयारी

वधु पक्ष का कहना है कि शादी के लिए लड़की पर हल्दी का उबटन भी हो गया था। हलवाई का सामान भी आ गया था। रिश्तेदार भी आ गए थे। जाति का पता चलने पर शादी के लिए लड़की ने ही मना कर दिया है।

दादरी कोतवाली के एसएसआइ दिनेश मलिक ने बताया कि तहरीर के आधार पर मामले की जांच की जा रही है। दोनों पक्षों से बातचीत की गई है। आगे की कार्रवाई की जा रही है।