4 साल से भारत की मिन्नतें कर रहा चीन, मगर इंडिया अपने फैसले पर अटल, गलवान के बाद से नहीं सुनी बात

India-China

India-China

नई दिल्ली। India-China: पिछले कुछ सालों में चीन की करतूतों की वजह से उसके भारत के साथ संबंध अच्छे नहीं रहे हैं। गलवां घाटी में टकराव के बाद भारत ने सख्त रुख अपनाते हुए भारत ने चीन के साथ व्यापारिक संबंधों और यात्रा पर प्रतिबंध लगा दिया था। वहीं, अब चीन खुद मिन्नतें कर रहा है कि भारत सरकार फिर से चीन के लिए सीधी उड़ान की शुरुआत कर दे।

भारत ने चीन को ना कहा

इसको लेकर अधिकारियों ने कहा कि चीन चार साल के बाद सीधी यात्री उड़ानें फिर से शुरू करने के लिए भारत पर दबाव डाल रहा है, लेकिन भारत सरकार ने सख्त रुख अपनाया है और चीन को ना कहा है।

बता दें कि जून 2020 में विवादित हिमालयी सीमा पर सबसे बड़ा सैन्य टकराव हुआ था जिसके बाद से भारत-चीन संबंध तनावपूर्ण हैं, यहां भारत के 20 जवान और चीन के चार जवान मारे गए थे।

भारत ने सैकड़ों चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया था

झड़प के बाद से, भारत ने चीनी कंपनियों के लिए देश में निवेश पर रोक लगा दी। साथ ही सैकड़ों लोकप्रिय ऐप्स पर प्रतिबंध लगा दिया। जिसमें टिक टॉक जैसा प्रसिद्ध ऐप शामिल है।

चीन के विदेश मंत्रालय ने पिछले सप्ताह एक बयान में रॉयटर्स को बताया था कि हमें उम्मीद है कि भारतीय पक्ष सीधी उड़ानों को जल्द से जल्द फिर से शुरू करने के लिए चीन के साथ उसी दिशा में काम करेगा कि उन्होंने कहा कि उड़ानें फिर से शुरू करना दोनों देशों के हित में होगा।