दुनिया का ऐसा देश जहां होती है अपराधियों की 'पूजा' - Arth Parkash
Saturday, March 23, 2019
Breaking News
Home » Photo Feature » दुनिया का ऐसा देश जहां होती है अपराधियों की ‘पूजा’
दुनिया का ऐसा देश जहां होती है अपराधियों की ‘पूजा’

दुनिया का ऐसा देश जहां होती है अपराधियों की ‘पूजा’

अपराधियों से आम तौर पर लोग दूर ही रहना पसंद करते हैं। उन्हें अपने घर में आने देने से गुरेज करते हैं। लेकिन, दुनिया में एक देश ऐसा भी है, जहां अपराधियों को ‘पूजा’ जाता है। ये है लैटिन अमरीकी देश वेनेजुएला।कच्चे तेल के बड़े निर्यातकों में से एक वेनेजुएला की शोहरत दुनिया में अमरीका के दुश्मन के तौर पर है। इसी की वजह से इस देश ने उठा-पटक का लंबा दौर देखा है। ह्यूगो शावेज की अगुवाई में यहां साम्यवादी शासन स्थापित हुआ था। शावेज की मौत के बाद उनके वारिस निकोलस मादुरो के राज में यहां भारी अराजकता फैली हुई है। जुर्म का बोल-बाला है। ऐसे में यहां के लोगों का अपराधियों को देवता के तौर पर मानना अजीब लगता है। यहां पुराने और इस दुनिया से गुजर चुके अपराधियों के बुत बनाकर उन्हें पूजा जाता है। उन्हें चढ़ावा चढ़ाया जाता है।

स्पेनिश जबान में इन अपराधी देवताओं को सैंटोस मैलेंड्रोस कहते हैं। पुराने दौर के इन बदनाम अपराधियों के छोटे-छोटे बुतों को एक जगह पर रखा गया है। इन्हें देखने के लिए दूर-दूर से लोग आते हैं। ऐसे ही एक मैलेंड्रो का नाम है लुई सांचेज। लुई सांचेज अपने दौर का बहुत ताक़तवर अपराधी था। आज उसका बुत लगाकर पूजा की जाती है।सवाल ये है कि आखिर वेनेजुएला के लोग, अपराधियों को देवता मानकर उनकी पूजा क्यों करते हैं। असल मे इन अपराधियों की छवि जनता के बीच रॉबिनहुड वाली रही है। वो, जो अमीरों को लूटकर दौलत को गरीबों में बांट देते थे। उन्होंने किसी की हत्या नहीं की। सिर्फ अमीरों को लूटा और गरीबों पर लुटाया। स्थानीय लोग कहते हैं कि ये मैंलेंड्रो कुछ अच्छा काम करने के बाद इनाम की उम्मीद करते हैं। अगर इन्हें चढ़ावा नहीं चढ़ाया जाता, तो ये खफा भी हो जाते हैं। तो, जैसे हिंदुस्तान में किसी की मन्नत पूरी होने पर चढ़ावा चढ़ाया जाता है। उसी तरह वेनेजुएला के सैंटोस मैलेंड्रोज को भी चढ़ावा चढ़ाया जाता है।

इन अपराधी देवताओं को चढ़ावे में शराब अर्पित की जाती है। अगर कोई इंसान किसी बात से परेशान है, तो वो इन्हें चढ़ावा चढ़ाता है। इस उम्मीद में कि उनका काम बन जाएगा। ये हकीकत में तो किसी की मदद नहीं करते। पर ये सैंटोस मैलेंड्रोज, चढ़ावे पर बहुत खुश होते हैं। लोगों की मान्यता है कि ये खुश होकर उन्हें वरदान देते हैं और उनका काम बन जाता है।सलाह तो ये भी दी जाती है कि इन अपराधियों को चढ़ावे में ज्यादा शराब नहीं दी जानी चाहिए। वरना, ये काम छोड़कर जश्न मनाने में मशगूल हो जाएंगे। बेहतर होगा कि इन्हें चखने भर के लिए बीयर दी जाए, ताकि लोगों का काम भी बन सके। असल में अपराधी देवताओं की ये पूजा भरोसे की बात है। लोगों को इनके कि़स्से-कहानियों पर यक़ीन है। सो, वो उन्हें चढ़ावा पेश करते हैं। उन्हें उम्मीद होती है कि सैंटोस मैलेंड्रोज उनकी मदद करेंगे।

वेनेजुएला की राजधानी कराकास में इस वक्त जो अराजकता है, जो हालात हैं, उसमें इन अपराधी देवताओं की मांग और बढ़ गई है। हालात बहुत खतरनाक हैं। हर शख्स को सुरक्षा चाहिए। तो, लोग इनके पास आते हैं। चढ़ावे में सिगरेट, बीयर या सफेद मोमबत्ती की अक़ीदत पेश करते हैं। किसी के पास खाना है, तो वो इन अजब-गजब देवताओं को खाना परोसता है|भोग में क्या चढ़ाना है, ये आप की श्रद्धा पर निर्भर करता है। लेकिन, अगर आप वेनेजुएला के सैंटोस मैलेंड्रोज की इबादत करते हैं, तो वहां के हालात के हिसाब से इससे अच्छा कोई काम नहीं हो सकता। भरोसे का ये कारोबार, लोगों में उम्मीद जगाए रखता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share