Home » पंजाब » यूनाइटेड सिख्स ने कोविड-19 के बारे में जागरूकता मुहिम चलायी और फूड बैंक शुरू किया

यूनाइटेड सिख्स ने कोविड-19 के बारे में जागरूकता मुहिम चलायी और फूड बैंक शुरू किया

मोहाली / चंडीगढ़, 25 मार्च, 2020:- यूनाइटेड सिख्स ने कोविड-19 संकट के मद्देनजर जागरूकता अभियान चलाया और एक फूड बैंक शुरू किया। संगठन चंडीगढ़ एवं मोहाली में एटीएम और बैंकों को कीटाणमुक्त कर रहा है, साथ ही इसने पंजाब, फरीदाबाद, दिल्ली और अम्बाला में मास्क और सैनिटाइजर वितरित किये हैं। दिल्ली, पंजाब व फरीदाबाद में निचले आय वर्ग वाले क्षेत्रों में वायरस के बारे में जागरूकता फैलाने का अभियान चलाया गया। इसके अलावा, पूरी दुनिया में अनेक स्थानों पर भूखों को भोजन दिया जा रहा है।

फूड बैंक दुनिया भर में स्थापित किये गये हैं, जिनके तहत चलने फिरने में असमर्थ लोगों को उनके ठिकाने पर ही भोजन पहुंचाया जाता है। संगठन की ओर से ओटीसी दवाओं, बुनियादी खाद्य आपूर्ति और लंगर का वितरण भी सुनिश्चित किया जाता है। यह सुविधा अंतर्राष्ट्रीय छात्रों और 65 वर्ष से अधिक उम्र के उन बुजुर्गों को मुहैया करायी जाती है, जो अकेले रहते हैं अथवा कमजोर हैं। बच्चों, अकेली माताओं, विकलांगों और निम्न आय वर्ग के लोगों की भी सहायता की जाती है।

यूएस में यूनाइटेड सिख्स के डायरेक्टर, हरदयाल सिंह ने कहा, ‘संयुक्त राज्य अमेरिका में न्यूयार्क कोरोना से सबसे अधिक प्रभावित है, जहां हमारी संस्था की ओर से कोरोना प्रभावित लोगों को मुफ्त भोजन दिया जाता है। हमारे वर्कर दस्ताने, मास्क और सामाजिक दूरी के नियम का पालन करते हैं और भोजन तैयार करने की पूरी प्रक्रिया के दौरान खाद्य स्वच्छता का खास ध्यान रखा जाता है।’

यूनाइटेड सिख्स संयुक्त राष्ट्र से संबद्ध, एक अंतर्राष्ट्रीय गैर-लाभकारी, गैर-सरकारी, मानवीय राहत, मानव विकास एवं एडवोकेसी संस्था है, जो संयुक्त राज्य अमेरिका, कनाडा, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया और भारत सहित 11 देशों में पंजीकृत है।

यूनाइटेड सिख्स के डायरेक्टर परविंदर सिंह ने कहा, ‘भारत में यह संगठन सोसायटी पंजीकरण अधिनियम के तहत पंजाब में पंजीकृत है। हम वंचित व्यक्तियों और अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को प्राकृतिक व मानव निर्मित आपदाओं, भूख, अशिक्षा, बीमारियों से प्रभावित लोगों के जीवन को बदलने, तकलीफ कम करने, शिक्षित करने और जीवन रक्षा के लिए विभिन्न प्रोजेक्ट चलाते हैं। हम लोगों की जाति, रंग, नस्ल, धर्म या पंथ की परवाह किए बिना समाजिक कार्यों को अंजाम देते हैं।’

तीन मुख्य निदेशालयों के तहत संचालित इसकी परियोजनाओं में सामुदायिक सशक्तिकरण और शिक्षा प्रभाग (सीड), जिसमें महिलाओं और युवाओं के सशक्तीकरण के लिए शिक्षा को सपोर्ट करना और मानवीय सहायता के लिए विभिन्न आध्यात्मिक शिविर आयोजित करना शामिल हैं, मानवीय सहायता और अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकारों की वकालत करना शामिल है।

भारत में इसके डायरेक्टर्स में प्रीतम सिंह, परविंदर सिंह, जसमीत सिंह और मोहिंदर जीत सिंह शामिल हैं। इसके अलावा, प्रसिद्ध गायक एवं अभिनेता गुरप्रीत घुग्गी भी इस संस्था से जुड़े हुए हैं।

Check Also

बड़ी खबर: जवाहरपुर में सरपंच समेत 7 लोग करोना वायरस के पॉजिटिव, डी.सी .मौक़े पर

डेराबस्सी -(चौहान)मात्र 2 किलोमीटर दूर डेराबस्सी से चंडीगढ़ अंबाला सड़क के नजदीक डेराबस्सी क्षेत्र में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share
See our YouTube Channel