धर्म / संस्कृति Archives - Arth Parkash
Monday, August 20, 2018
Breaking News
Home » धर्म / संस्कृति

जैसी दृष्टि वैसी सृष्टि : निरंकारी बाबा जी

महापुरुष कहते हैं कि इस मन के ऊपर कितना कुछ टिका हुआ है, कहते हैं कि- दिल ही की बदौलत रंज भी है दिल ही की बदौलत राहत भी। यह दुनिया जिसको कहते हैं दोज़ख भी है और जन्नत भी। मन की सोच, मन के भाव, जैसे हम दृष्टि की बात करिते हैं । ये दृष्टि वो नहीं है जो ... Read More »

संत निरंकारी मिशन का मुक्ति पर्व संदेश : समर्पण भाव से ही भक्त ऊंचाइयां प्राप्त कर सकते हैं

चंडीगढ़। सतगुरु माता सुदीक्षा महाराज की असीम कृपा से संत निरंकारी सत्संग भवन चंडीगढ़ में मुक्ति पर्व समागम का आयोजन किया गया। जिसकी अध्यक्षता निरंजन सिंह आई.ए.एस. रिटा. ने की। उन्होंने अपने प्रवचनों में मुक्तिपर्व समागम का महत्व बताते हुए कहा कि निरंकारी जगत में आज के दिन को मुक्ति पर्व के रूप में मनाते हैं और उन संतों महात्माओं ... Read More »

अनेकता में एकता का प्रतीक है मेरा हिंदुस्तान : मुनिश्री आलोक

भारत का स्वतंत्रता दिवस ऐतिहासिक महत्व रखता है, क्योंकि इस दिन हम राजनीतिक तौर पर आजाद हुए और हमने लोगों के दिल और दिमाग में राष्ट्रीयता का विचार पैदा करना शुरू किया. अगर ऐसा न होता, तो लोग अपनी जाति, समुदाय व धर्म आदि के आधार पर ही सोचते रह जाते। हालांकि, भारतीय होने का यह गौरव केवल एक भौगोलिक ... Read More »

संकीर्णता और खुदगर्जी के कारण इंसान की दुर्दशा : निरंकारी बाबा जी

आज इन्सान ने बहुत तरक्की कर ली है, अनेक मुल्कों के पास, साइंसदानों के पास आज बहुत भौतिक शक्तियां आ गई हैं। पर ये सारी शक्तियां किस तरफ लग रही है, यह हम अपनी आँखों से देख रहे हैं। देखने मे आता है कि जिन शक्तियों में कुछ तरक्कीयां हुई है, वही शक्तियां आज विनाश की तरफ बढ़ रही है। ... Read More »

भोले बाबा की पूजा में इन पांच चीजों का कभी न करे प्रयोग

हर देवी देवताओ की पूजा में हम अलग अलग सामग्री का प्रयोग करते है|लेकिन कुछ सामग्री से भी होती है जिनका प्रयोग करना उल्टा परिणाम दे सकता है| जाने शिव जी को नहीं चढ़ानी चाहिए कभी ये पांच चीजे……. केतकी का फूल तुलसी नारियल का पानी हल्दी सिन्दूर या कुमकुम Read More »

युवा आगे बढ़कर देश का करे नेतृव्य : मुनिश्री आलोक

चंडीगढ़। किसी भी देश के युवा उसका भविष्य होते है। उन्ही के हाथो में देश की उन्नति की बागडोर होती है, आज के परिद्श्य में जहां चहुं और भ्रष्टाचार, बुराई अपराध का बोलबाला है। जो घुन बनकर देश को अंदर ही अंदर से ही खाए जा रहा है। ऐसे मे देश की युवा शक्ति को जागृत करना और उन्हे देश ... Read More »

श्री हिन्दू तख़्त के प्रचारक एवं आतंकवाद विरोधी नेता शांडिल्य को गीता मनीषी ज्ञानानंद ने किया सम्मानित

अम्बाला – विश्व में श्रीमद भागवत गीता को घर-घर पहुंचाने वाले व गीता को भजन की तरह समाज को कंठस्थ करवाने के लिए प्रयासरत गीता मनीषी स्वामी ज्ञानानंद जी महाराज नें एंटी टेरोरिस्ट फ्रंट इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं श्री हिन्दू तख़्त के प्रचारक वीरेश शांडिल्य को देश में जांबाजी से आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई लड़ने पर सम्मानित किया और ... Read More »

सत्य में स्थित होने की जरुरत है : निरंकारी बाबा जी

क्या कभी अपने अंदर झांका है, क्या कभी विचारा है कि आखिर सन्तों, गुरु-पीर-पैगम्बरों की शिक्षाएं क्या रही हैं। उसको तो हमने एक तरफ रख दिया और भ्रमों-भ्रांतियों को जन्म देकर हमारी मान्यताएं कुछ और बन गई और हम चल निकले उसी रास्ते पर जो हमें धर्मी नहीं अधर्मी बना रहा हैए जो हमारे लिये मोक्ष का कारण नहीं बल्कि ... Read More »

इंसानी जन्म आत्मा के उद्धार के लिए है : निरंकारी बाबा जी

हे मानव! ये पांच तत्व का बना पुतला, ये जिस्म तुझे मिला है, यह तुझे मुबारक है क्योंकि इन्सानी जन्म मिलना सुनहरी अवसर के रुप में है। इस जन्म में तू अपनी असली पहचान बना सकता है, तू सत्य को जानकर अपनी आत्मा का उद्धार कर सकता है। यह आत्मा जन्मों-जन्मों से आवागमन के चक्कर में पड़ी हुई है और ... Read More »

पूरे समाज को रोशन करती हैं बेटियां : मुनिश्री आलोक

दुनिया की आधी जनसं या लगभग महिलाओं की है इसलिये वो धरती पर जीवन के अस्तित्व के लिये आधी जि मेदार होती है। लड़कियों या महिलाओं को कम महत्ता देने से धरती पर मानव समाज खतरे में पड़ सकता है क्योंकि अगर महिलाएँ नहीं तो जन्म नहीं। लगातार प्रति लड़कों पर गिरते लड़कियों का अनुपात इस मुद्दे की चिंता को ... Read More »

Share