Home » संपादकीय

संपादकीय

निर्भया के दोषियों को फांसी कानून और न्याय की जीत

7 साल 3 महीने और 3 दिन। आखिरकार 20 मार्च की सुबह निर्भया के दोषियों के लिए आखिरी सुबह साबित हुई। सुबह नया पैगाम लेकर आती है, सुबह से अनेक उम्मीदें जुड़ी होती हैं, सुबह का सूरज अपने साथ ऐसी ऊर्जा लेकर आता है, जोकि हमारे तन-मन में नए संकल्प भरती हैं। हालांकि चार दोषियों का दुर्भाग्य रहा कि उनके …

Read More »

शराब तस्करी, मिलावटखोरी पर सख्त कानून समय की जरूरत

हरियाणा की गठनबंधन सरकार अगर शराब तस्करी और गांवों में ठेके बंद कराने के प्रति संजीदा है, तो इसकी सराहना होनी चाहिए। प्रदेश में शराब हमेशा से उत्तेजक मुद्दा रही है, हालांकि शराबबंदी का वादा करके भी एक पार्टी सत्ता में आई थी, लेकिन फिर हालात ऐसे बने कि मजबूरी में उसे शराबबंदी का फरमान वापस लेना पड़ा। उसके बाद …

Read More »

कोरोना को हराने में सभी का प्रयास अपेक्षित

कोरोना वायरस से दुनिया की जंग जारी है, सभी देश अपने-अपने तरीके से इस खतरनाक बीमारी से लड़ रहे हैं। भारत में इस वायरस से मौत का आंकड़ा तीन हो गया है। हालांकि पूरे देश में बचाव का जो अभियान जारी है, उसने संक्रमण को सीमित कर दिया है। इस बीच दुनियाभर में डॉक्टर इस वायरस की प्रतिरोधक दवा तैयार …

Read More »

पंजाब की कैप्टन सरकार के तीन साल : अधूरे वादे भी हों पूरे

पंजाब में कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार ने तीन साल पूरे कर लिए हैं। इन वर्षों में सरकार ने अनेक चुनौतियों का सामना किया है। सरकार के गले की फांस बना श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी का मामला जहां विपक्ष को बार-बार हमलवार होने का मौका देता रहा है, वहीं नशे की आमद ने भी सरकार को सुर्खियों में रखा …

Read More »

राज्यपाल के आदेश की अनदेखी स्वस्थ परंपरा नहीं

मध्यप्रदेश के राज्यपाल की ओर से कमलनाथ सरकार को फ्लोर टेस्ट के निर्देश दिए जाने के बावजूद बजट सत्र के पहले दिन सोमवार को विधानसभा अध्यक्ष ने सदन की कार्यवाही को ही स्थगित कर दिया। संभव है, ऐसा घटनाक्रम भी पहली बार सामने आया है, जब कोरोना वायरस का बहाना बनाते हुए राज्यपाल के आदेश की इस प्रकार धज्जियां उड़ाई …

Read More »

मध्यप्रदेश : बहुमत परीक्षण ही खोलेगा दावों-प्रतिदावों का सच

मध्यप्रदेश की सियासत में आया भूचाल थमने का नाम नहीं ले रहा है। कमलनाथ सरकार रहेगी या जाएगी, यह संशय लगातार बना हुआ है। इस बीच राज्यपाल लालजी टंडन के मुख्यमंत्री कमलनाथ को सोमवार को विधानसभा में अपना विश्वासमत हासिल करने के आदेश, सरकार विरोधियों का मनोबल बढ़ा गए हैं। गौरतलब है कि पूर्व कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक …

Read More »

दिल्ली दंगे: आखिर विपक्ष क्यों न सुने सरकार का जवाब

लोकसभा में केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह का दिल्ली के दंगों पर जवाब विपक्ष को ही भारी पड़ता नजर आ रहा है। सदन में दंगों पर बहस की मांग को लेकर अड़े विपक्ष ने कार्यवाही नहीं चलने दी थी, हालांकि सरकार कह रही थी कि होली के बाद वह चर्चा को तैयार है। अब होली के दूसरे दिन ही सरकार ने …

Read More »

हंसने-मुस्काने की आदत डालें, तनाव-डिप्रेशन दूर करें

कभी आपने नोट किया कि आपकी मुस्कुराहट आपके लिये क्या-क्या गुल खिला सकती है? या सुबह-शाम सैर करते हुए कभी लोगों के चेहरे की भाव-भंगिमाओं को नोट किया कि वे प्राय: उदासीन, नीरस व अशांत नजऱ आते हैं? किंतु वहीं किसी पार्क में योग करते हुए जोर-जोर से हंसते व ठहाके मारते हुए लोग भी नजर आते होंगे। बहुत से …

Read More »

कोरोना वायरस मेडिकल साइंस के लिए बड़ा सवाल

यह विडम्बना ही है कि विज्ञान और तकनीक में महारत हासिल करने वाला चीन एक महामारी का इलाज नहीं तलाश पा रहा है, वैसे यह पूरी दुनिया की मेडिकल साइंस के लिए भी चुनौती है कि कोरोना वायरस सुरसा के मुंह तक फैलता जा रहा है लेकिन हम सिर्फ उसके शिकार होते लोगों की संख्या ही गिन पा रहे हैं। …

Read More »

राजनीतिक विद्वेष की आग से जल रही दिल्ली

नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर राजधानी नई दिल्ली में हिंसा का तांडव बेहद खौफनाक है और समझ से परे है कि पुलिस तीन दिन के अंदर इसे नियंत्रित करने में नाकामयाब रही, अब अगर दंगाइयों को देखते ही गोली मारने के आदेश दिए गए हैं, तो यह इस मामले के चरम को प्रतिबिंबित करता है। अब तक इस कानून …

Read More »
Share
See our YouTube Channel