संपादकीय Archives - Arth Parkash
Monday, August 20, 2018
Breaking News
Home » संपादकीय

केरल : कुदरत का कहर झेलता एक सुंदर राज्य

समुंदर के किनारे पर बसा एक सुंदर राज्य बाढ़ के कहर से त्रस्त है। केरल के संबंध में हमेशा सकारात्मक खबरें ही सुनने को मिलती हैं, लेकिन आजकल यह प्रदेश सदी की सबसे बड़ी तबाही से जूझ रहा है। बताया गया है कि पिछले 100 सालों में कभी ऐसी तबाही केरल ने नहीं देखी। इस बार आसमानी आफत ऐसी टूटी ... Read More »

देश में एक साथ लोकसभा-विधानसभाओं के चुनाव का विचार

देश जब एक और स्वतंत्रता दिवस मनाने जा रहा है, तब यह बड़ी बहस का विषय है कि क्या इसकी सच में जरूरत है कि पूरे देश में एक साथ लोकसभा और विधानसभाओं के चुनाव होने चाहिएं। अगर ऐसा हुआ तो इसका परिणाम क्या होगा? सत्ता में बैठी पार्टी इसका फायदा उठाएगी? विपक्ष किस तरह से खुद को इस नयी ... Read More »

आरक्षण की मांग को लेकर जाटों का फिर से आंदोलन

हरियाणा में जाट आरक्षण को लेकर सियासत एक बार फिर गरमा गई है। मांगों को लेकर सरकार पर धीरे-धीरे दबाव बनाते आ रहे जाटों ने अब फिर से आंदोलन छेड़ने की घोषणा कर दी है। अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति का कहना है कि जब उनकी मांगें पूरी नहीं हो जाती, तब तक वे आंदोलन को जारी रखेंगे। मालूम ... Read More »

रोहतक में ऑनर किलिंग : आखिर समाज कब बदलेगा ?

रोहतक में बीते दिनों घटी एक घटना ने जहां हरियाणवी समाज की सोच को फिर से जाहिर कर दिया है, वहीं यह भी साबित हो गया है कि जातिवाद को खत्म होने में अभी अनेक सदियां लगेंगी। एक दलित युवक से शादी करने की एक युवती को यह सजा मिली कि उसे सरेआम गोली से उड़ा दिया गया। इस दौरान ... Read More »

एम करूणानिधि : इतिहास हो गया तमिल राजनीति का एक और योद्धा

आखिरकार भारतीय राजनीति का एक और जननेता चला गया। तमिलनाडु की राजनीति का एक बड़ा स्तंभ रहे पूर्व मुख्यमंत्री एम करुणानिधि का जाना ऐसा खाली स्थान है जोकि कभी नहीं भर सकेगा। वे अपने पीछे ऐसा इतिहास छोड़ गए हैं, जिसे राज्य कभी भुला नहीं पाएगा। जब उन्होंने साल 2006 में राज्य के सबसे उम्रदराज मुख्यमंत्री के तौर पर पदभार ... Read More »

सोशल मीडिया हब बनाना नहीं जरूरी

फेसबुक के जमाने में जब मीडिया सूचनाएं प्रदान करने का प्रमुख माध्यम बन चुका है, तब सोशल मीडिया हब बनाने जैसे फैसले कितने तर्कसंगत हो सकते हैं? जाहिर है किसी की ऑनलाइन स्वतंत्रता को कैसे बाधित किया जा सकता है। केंद्र सरकार सोशल मीडिया हब बनाने के फैसले से पीछे हट गई है, जिसे सही ठहराया जा रहा है। इस ... Read More »

पंजाब आप में जारी बगावत का परिणाम क्या होगा

पंजाब में आम आदमी पार्टी के अंदर बगावत का जो दौर जारी है, वह निःसंदेह पार्टी हाईकमान के लिए ंिचंता की बात है, लेकिन पार्टी के विधायकों में यह असंतोष उसके प्रारूप और लीडरशिप पर भी सवाल है। दूसरे राजनीतिक दलों से खुद को इतर बताकर और देश की जनता के सामने उदाहरण पेश करने की बात कह कर जिस ... Read More »

अब अन्य पिछड़ों को साध लिया मोदी सरकार ने

आखिरकार मोदी सरकार ने देश के ओबीसी वर्ग की भी सुध ले ली है। हरियाणा, राजस्थान, उत्तरप्रदेश, मध्यप्रदेश समेत कई राज्यों में ओबीसी वर्ग लंबे समय से आरक्षण की मांग को लेकर आंदोलन कर रहा है। आगामी लोकसभा और विधानसभाओं में चुनाव को देखते हुए यह कदम काफी अहम माना जा सकता है। इन राज्यों में ओबीसी वर्ग ने भाजपा ... Read More »

दलितों की नाराजगी झेलने को तैयार नहीं केंद्र सरकार

आम चुनाव के मुहाने पर बैठा देश राजनीति के तमाम उतार-चढ़ाव देख रहा है। इस वर्ष 2 अप्रैल को देश भर में दलित समाज के लोगों ने भारत बंद कर जैसा शक्ति प्रदर्शन किया था, उससे न केवल राज्य सरकारों के माथे पर चिंता की लकीरें उबरी थी, अपितु केंद्र सरकार तो लगभग पसीने-पसीने हो गई थी। मामला था अनुसूचित ... Read More »

युवाओं के सिर नया फितूर, किकी डांस से जिंदगी खतरे में

फेसबुक के जमाने में किसी बात के सेकंड भर में पूरी दुनिया में फैलने में वक्त नहीं लगता है। अच्छी बातें भी फैल रही हैं और गलत भी। आजकल एक विचित्र किस्म के डांस ने देश भर में अपनी धूम मचा रखी है। अगर बात सिर्फ इतनी सी होती तो कुछ नहीं था, लेकिन संकट यह है कि इस डंास ... Read More »

Share