Breaking News
Home » Photo Feature » इस बार मई के पहले हफ्ते में ही आ जाएगा सीबीएसई बोर्ड का रिजल्ट

इस बार मई के पहले हफ्ते में ही आ जाएगा सीबीएसई बोर्ड का रिजल्ट

पिछली बार मई के अंत में आया था परिणाम

चंडीगढ़ (गौरव राजवीर)। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की 12वीं तथा दसवीं की परीक्षाएं 3 अप्रैल तक जारी रहेंगी, वहीँ हर बार बोर्ड का रिजल्ट मई महीने के अंत तक आता है पर इस बार रिजल्ट मई के पहले महीने में ही आने की उम्मीद है। पिछले साल 2018 में 26 मई को 12वीं तथा 29 मई को 10वीं का नतीजा घोषित किया गया था इस बार इसके पुराने सालों से अलग 12वीं व 10 वीं का रिजल्ट मई के पहले हफ्ते में ही आजाएगा। 2019 में 15 फरवरी से लेकर 3 अप्रैल तक चलने वाले हैं, पिछले साल छात्र तथा अभिभावकों ने कम छुट्टियां कम होने की शिकायत दर्ज करवाई थी इस लिए इस बार परिक्षाओं के बीच में मिलने वाली छुट्टियों को बढाए जाने का फैसला लिया गया था। पिछली बार डेटशीट को पोस्टपोर्न कर दिया गया था पहले से ही डेटशीट को इस तरीके से रखा गया था जिस वजह से डेटशीट को पोस्टमोर्न करने की आव्यश्यकता नहीं पड़ी।

पिछले साल 12वीं के पेपर 5 मार्च से 13 अपरैल तक चले थे तथा 4138 एग्जाम सेंटर थे तथा 11,86,306 छात्रों ने यह परीक्षा दी थी तथा पास परसेंटेज 83.3 रहा जिसमें लड़कों का पास परसेंटेज 78.8 तथा लड़कियों का पास परसेंटेज 88.31 रहा था। पिछले लगातार कई सालों से लड़कियां बोर्ड की परीक्षा में लड़कों से बाजी मारती आरही हैं। पिछले साल तिरूवंनथापुरम में सबसे ज्यादा पास परसेंटेज रहा जोकि 97.32 था।

सीबीएससी के 141 स्कूल अलग-अलग 21 देशों में भी है। सीबीएससी को अपना नाम सेंटरल बोर्ड ऑफ सेकंडरी एजुकेशन 1952 में मिला था, जिसका 1962 में दुबारा गठन किया गया था।

छात्र अपना रिजल्ट 4 तरीकों से देख सकते हैं:

  • आईवीआर- 30 पैसे पर मिनट पर रोल नंबर के दर से छात्र आईवीआर के जरिए अपना रिजल्ट देख सकते हैं।
  • एसएमएस- छात्रों को एसएमएस के जरिए अपना रिजल्ट देखने की सुविधा भी उपलब्ध करवाई गई है, 50 पैसे प्रति एसएमएस की दर से छात्र इस सुविधा का उपयोग किया जा सकता है।
  • डिजी लॉकल- 2019 में छात्र डिजी लॉकर की मदद से भी अपना नतीजा देख सकते हैं इसके लिए उन्हें अपना मोबाइल नंबर रजिस्टर करवाना होगा।
  • सीबीएससी.निक.इन- सीबीएससी की ऑफिश्ल साइट पर भी हर बार की तरह इस बार भी रिजल्ट देखा जा सकता है।

Check Also

कुत्ते को ढूंढने पर 10 हजार का ईनाम, तलाश में महिला ने की 349 किलोमीटर की यात्रा

कहा जाता है कि पालतू जानवरों में कुत्ता इंसानों का सबसे वफादार साथी होता है। …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share
See our YouTube Channel