Home » अर्थ प्रकाश विशेष » विपक्ष व सरकार ने मिलकर हरियाणा को किया कमजोर, अभय चौटाला ने सरकार पर किया वार

विपक्ष व सरकार ने मिलकर हरियाणा को किया कमजोर, अभय चौटाला ने सरकार पर किया वार

कैथल। इंडियन नेशनल लोकदल के प्रधान महासचिव अभय सिंह चौटाला ने शुक्रवार को आरकेएम फार्म पहुंच कर कार्यकर्ताओं एवं पदाधिकारियों की बैठक ली। इस अवसर पर इनेलो प्रदेश अध्यक्ष नफे सिंह राठी, पूर्व विधायक श्याम सिंह राणा, प्रदेश महासचिव अशोक जैन, जिला अध्यक्ष राजाराम माजरा  भी थे।

अभय सिंह चौटाला ने कहा कि मौजूदा भाजपा-जजपा गठबंधन सरकार के गलत निर्णय के कारण प्रदेश में 1500 से अधिक प्राइमरी स्कूल बंद कर दिए गए। इससे लाखों बच्चे पढ़ाई से वंचित हो गए। प्रदेश में 80 फीसद से ज्यादा किसान दो एकड़ से कम भूमि के मालिक हैं और उनके बच्चे प्राइमरी स्कूलों में ही शिक्षा ग्रहण करते हैं। स्कूल बंद होने के कारण ऐसे बच्चे पढ़ाई से वंचित हो जाएंगे। हरियाणा शिक्षा बोर्ड द्वारा दसवीं का रिजल्ट घोषित कर 100 फीसद विद्यार्थियों को पास करने के निर्णय पर सवाल उठाते हुए अभय ने कहा कि यह सरासर गलत निर्णय है। अगर कोरोना महामारी में चुनाव हो सकते हैं तो बच्चों के पेपर भी हो सकते हैं। चाहे आनलाइन होते या आफलाइन, उनकी परीक्षा अवश्य होनी चाहिए थी। सरकार के इस फैसले से मेरिट में आने वाले बच्चों का काफी नुकसान हुआ है जोकि उन्हें काफी आगे तक भुगतना पड़ेगा।

भोले-भाले नौजवानों को लूटा

इनेलो प्रधान महासचिव ने प्रदेश की गठबंधन सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि रोजगार देने का वादा कर सत्ता मिलने के पश्चात भोले-भाले नौजवानों को लूटने का काम किया जा रहा है। इसका ताजा उदाहरण गत दिवस 400 सब इंस्पेक्टरों की भर्ती प्रक्रिया रद कर देना है। जब दोबारा यह भर्ती प्रक्रिया आरंभ होगी तो काफी नौजवानों की आयु निकल चुकी होगी।

आपस में भिड़ रहे कांग्रेस के नेता

अभय सिंह चौटाला ने कहा कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आपस की प्रतिस्पर्धा में ही व्यस्त हैं। सरकार की गलत नीतियों का ना तो विपक्ष विधानसभा में सही ढंग से विरोध कर रहा है और ना ही सड़कों पर। सत्ता पक्ष और विपक्ष मिलकर प्रदेश को लूटने का काम कर रहे हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं का एकमात्र लक्ष्य अखबारों में बयान छपवाना है। जनता से उसका कोई लेना-देना नहीं।

कोरोना के नाम पर भ्रष्टाचार हुआ-अभय

कोरोना संक्रमण पर बात करते हुए इनेलो प्रधान महासचिव ने कहा कि कोरोना की रोकथाम के लिए सरकार पूरी तरह से फेल रही है। अस्पतालों में भी करोड़ों का भ्रष्टाचार हुआ है। लाकडाउन में सत्ता में बैठे लोगों द्वारा शराब और रजिस्ट्री घोटाला कर करोड़ों रुपये डकार लिए गए। कई बार पुख्ता प्रमाण देने पर भी इन लोगों पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। इनेलो नेता ने कहा कि भाजपा गठबंधन सरकार के 600 दिन पूरे होने पर नेता अपनी पीठ थपथपा रहे थे, जबकि सच्चाई ये है कि सरकार ने प्रदेश को बेरोजगारी, महंगाई, भ्रष्टाचार, अपराध और प्रदेश पर कर्जा बढ़ाया है। इस अवसर पर बुद्धिजीवी प्रकोष्ठ के जिलाध्यक्ष शशि भूषण वालिया, सतीश गर्ग, राममेहर खुराना, अनिल तंवर, ईश्वर मैहला मौजूद रहे।

Check Also

BREAKING NEWS : कंकरखेड़ा से रेलवे रोड के बीच में लापता हुई थी छात्रा, छात्रा की कहानी पुलिस की जुबानी

मेरठ। मेरठ के मोदीपुरम में कंकरखेड़ा घर से रेलवे रोड क्षेत्र के एक स्कूल में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share
See our YouTube Channel