Home » हरियाणा » राज्य में बजट पेश करने वाले पहले मुख्यमंत्री ने दिया आश्वासन : सब का होगा हित

राज्य में बजट पेश करने वाले पहले मुख्यमंत्री ने दिया आश्वासन : सब का होगा हित

बजट से प्रभावित वर्गों से बातचीत और सुझावों की झलक बजट में देगी दिखाई

करनाल (शैलेंद्र जैन)। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा के इतिहास में पहली बार बजट से प्रभावित होने वाले वर्गो से सुझाव लिए जा रहे है। यह बजट सभी वर्गो के हितों को ध्यान में रखकर तैयार किया जा रहा है और यह हरियाणा के इतिहास का पहला बजट होगा, जिसे कोई मुख्यमंत्री पेश करेगा। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने शुक्रवार को पंचायत भवन परिसर में विकास कार्यो की सौगात देने के बाद पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि इस वर्ष का बजट अपने आप में ऐतिहासिक होगा। यह बजट सभी वर्गो का सांझा बजट होगा।
उन्होंने कहा कि इस बजट को तैयार करने में विधायकों, सांसदों, कोर्पोटर, व्यापारियों, सामाजिक संगठनों, महिला संगठनों के प्रतिनिधियों, शहरी निकायों व ग्रामीण क्षेत्र के पंचायती राज प्रतिनिधियों से बातचीत की गई व उनके सुझाव लिए गए है। उन्होंने कहा कि बेहतर सुझाव की झलकी बजट में देखने को मिलेगी। पत्रकार के प्रश्न के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि मेरे संज्ञान में आया है कि कुछ लोग बोगस फर्म बनाकर जीएसटी में धांधली कर रहे है। पिछले दिनों करनाल के रामनगर में एक महिला के साथ भी ऐसा धोखाधड़ी का मामला आया था और अब ऐसा ही मामला पानीपत में मिला है। उन्होंने कहा कि ऐसे फर्जी व्यक्ति को बक्शा नहीं जाएगा और नाजायज किसी भी व्यक्ति को तंग नहीं होने दिया जाएगा।

एक प्रश्न करनाल के एसपी कार्यालय में 44 लाख रूपये की धोखाधड़ी होने के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि दोषियों के खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही की जा रही है। यहां किसी के साथ अन्याय नहीं होने दिया जाएगा और दोषी के खिलाफ उचित कार्यवाही की जाएगी। एक प्रश्न के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना केन्द्र सरकार की योजना है, जो भी केन्द्र योजना में फेरबदल करेगा, उसे प्रदेश में लागू किया जाएगा। हरियाणा भी केन्द्र के निर्देशों अनुसार काम करेगा। बता दें कि गत दिनों प्रधानमंत्री ने किसानों को फसल बीमा योजना को स्वेच्छा से अपनाने की घोषणा की थी।

एक अन्य प्रश्न के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि फसल बीमा योजना के तहत प्रीमियम किसान के साथ-साथ केन्द्र व राज्य सरकार वहन करती है। किसान की फसल के खराबे का मुआवजा संबंधित कम्पनी देती है, यदि कम्पनी ऐसा नहीं करती तो उसके खिलाफ कार्यवाही की जाती है। उन्होंने कहा कि गत वर्ष कम्पनी द्वारा सिरसा व भिवानी के किसानों के खराबे के मुआवजे में आना-कानी की थी, जो कि सरकार के संज्ञान में आने के बाद तुरंत कम्पनी पर कार्यवाही करते हुए किसानों को उचित मुआवजा दिलाया गया, यदि आगे कोई ऐसा मामला आएगा तो कम्पनी के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी। हरियाणा सरकार किसानों के हितों के लिए अग्रसर है।

इस अवसर पर सांसद संजय भाटिया, मेयर रेणू बाला गुप्ता, नीलोखेड़ी के विधायक धर्मपाल गोंदर, भाजपा के जिलाध्यक्ष जगमोहन आनंद, प्रदेश महामंत्री एडवोकेट वेदपाल, मुख्यमंत्री के करनाल विधानसभा प्रतिनिधि संजय बठला उपस्थित थे।

Check Also

हरियाणा में कोरोना के 302 नये मामले, कुल संख्या 2954 पहुंची

चंडीगढ़। हरियाणा में कोरोना संक्रमण के आज 302 नये मामले आने के बाद राज्य में …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share
See our YouTube Channel