Home » हरियाणा » दिल्ली बार्डर पर बैठे किसानों की होगी टेस्टिंग व टीकाकरण
The farmers sitting on the Delhi border will be tested and vaccinated

दिल्ली बार्डर पर बैठे किसानों की होगी टेस्टिंग व टीकाकरण

स्वास्थ्य मंत्री विज की अध्यक्षता में हुई स्टेट मॉनिटरिंग कमेटी की बैठक में लिया फैसला

The farmers sitting on the Delhi border will be tested and vaccinated : हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि निजी व सरकारी अस्पतालों में जाने वाले खांसी, जुकाम, गला दर्द या बुखार जैसे लक्षणों वाले मरीजों का कोविड टैस्ट करवाया जाएगा ताकि मरीजों का समुचित उपचार किया जा सके। इसके साथ ही कोविड मामलों की बढोतरी के मद्देनजर राज्य के नागरिक अस्पतालों में सर्जरी को बंद किया गया है।

स्वास्थ्य मंत्री ने सोमवार को राज्य स्तरीय कोविड निगरानी समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए कहा कि हरियाणा के सभी प्रवेश द्वार पर ही कोरोना टैस्ट करवाया जाएगा ताकि कोरोना से पीडि़त लोगों का अलग से उपचार किया जा सके। उन्होंने कहा कि हरियाणा के बार्डर पर जो किसान धरने पर बैठे हैं, स्वास्थ्य विभाग उनकी कोरोना जांच तथा टीकाकरण करने की पहल करेगा।

इसके लिए पहले किसान नेताओं से बातचीत भी की जाएगी। इसके साथ ही शहरी स्थानीय निकाय विभाग को राज्य के सभी शहरों तथा पंचायत विभाग को सभी गांवों को सैनेटाइज करने की जिम्मेदारी दी है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि कोरोना के गंभीर मरीजों की देखभाल के लिए राज्य के सभी सरकारी मेडिकल कॉलेजों में ‘क्रिटिकल कोरोना केयर सेंटर’ बनाने के निर्देश दिए हैं। इसके साथ ही आयुष विभाग के चिकित्सकों का नियंत्रण संबंधित जिलों के सिविल सर्जन को दिया गया है ताकि कोरोना मरीजों की देखभाल और अच्छी प्रकार से की जा सके।

The farmers sitting on the Delhi border will be tested and vaccinated: विभाग द्वारा होम आइसोलेशन की किट तैयार करवाई जा रही है, जिसमें दवाइयां, प्लस ऑक्सिमीटर, कोरोना से बचाव संबंधी साहित्य व अन्य आवश्यक साम्रगी होगी। इन आयुष किटस की सहायता से चिकित्सक घर-घर जाकर कोरोना मरीजों की जांच एवं उपचार करेंगे। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 45086 क्वारंटाईन बैड, 11549 आइसोलेशन बैड में से करीब 89 प्रतिशत बैड खाली हैं, 2131 आईसीयू बैड में से 58 प्रतिशत खाली हैं, 1079 वेन्टीलेटर में से करीब 63 प्रतिशत खाली हैं। उन्होनें कहा कि राज्य में इस समय करीब 42 हजार कोरोना संक्रमित मामले हैं, जिनमें से करीब 30 हजार होम आईसोलेशन में है।

विज ने कहा कि प्रदेश में 270 एमटी ऑक्सीजन की मात्रा उपलब्ध है, जबकि राज्य में 60 एमटी की खप्त हो रही है। इसके साथ ही प्रदेश में सभी ऑक्सीजन प्लांटों पर पुलिस व औषध नियंत्रक प्रशासन को निगरानी रखने के आदेश दिए ताकि किसी भी प्रकार की कालाबाजारी न हो सके। इस दौरान मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव डी.एस ढेसी ने कहा कि एनसीआर में बढ़ते मामलों पर नियमित तौर पर इस पर निगरानी रखने बल दिया जाए। मुख्य सचिव विजय वर्धन ने कहा कि कोरोना मामलों पर जिला अधिकारियों से सम्पर्क रखा जाए तथा तुरंत निर्णय लिया जाएगा।

कुंभ से लौटे हरियाणा वासियों का होगा कोरोना टेस्ट

हरियाणा के गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा है कि कुंभ मेले से वापस आने वाले सभी हरियाणा वासियों का कोरोना टेस्ट करवाया जाएगा। इसके लिए जिला मॉनिटरिंग कमेटियों के माध्यम से हरियाणा की सीमाओं पर मंगलवार से शिविर लगाए जाएंगे। सोमवार को प्रदेश स्तरीय कोरोना मॉनिटरिंग कमेटी की पहली बैठक के बाद पत्रकारों से बातचीत में उन्होंने यह जानकारी दी। विज ने बताया कि आज हुई बैठक में मुख्यमंत्री के मुख्य प्रधान सचिव के अलावा शिक्षा, स्वास्थ्य, स्थानीय निकाय, गृह समेत उन सभी विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों ने भाग लिया है जिनका सीधा संबंध कोरोना नियंत्रण से है।

The farmers sitting on the Delhi border will be tested and vaccinated : विज ने बताया कि हरियाणा में कोरोना की टेस्टिंग को लगातार बढ़ाया जा रहा है। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि वह सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुसार मेलों के आयोजनों पर आगामी आदेशों तक पाबंदी रखना सुनिश्चित करें तथा सभी धार्मिक, राजनैतिक, सामाजिक तथा पारिवारिक समारोह में इन्डोर 50 तथा आऊटडोर में 200 से अधिक लोगों की भीड़ एकत्र न होने दें। इसके साथ ही लोगों को मास्क लगाने, व्यक्तिगत दूरी बनाए रखने तथा कोरोना कफ्र्यू रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक सख्ती से लागू किया जाए। इसके लिए जिला स्तर पर भी निगरानी समितियों का गठन किया जाए।

उन्होंने बताया कि प्रदेश में दवाईयों, आक्सीजन, वेंटिलेटर आदि की कोई कमी नहीं है। जो लोग घरों में आइसोलेट हैं उन्हें घरों में ही दवाईयां दी जा रही हैं। गृहमंत्री ने प्रदेश के उद्योगों में काम करने वाले कर्मचारियों से आग्रह किया कि वह पलायन न करें। प्रदेश में उनका रोजगार पहले की तरह चलता रहेगा।

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान जीटी रोड़ के अलावा दिल्ली से सटे जिलों में कोरोना के ज्यादा केस सामने आ रहे हैं। ऐसे में संभावना है कि इनमें ज्यादातर लोग दिल्ली से आ रहे हों। क्योंकि दिल्ली में आक्सीजन तथा स्वास्थ्य सुविधाओं का अभाव है। इसके बावजूद हरियाणा सरकार यहां आने वाले मरीजों का उपचार कर रही है।

अभियान के लिए जल्द होगा नेपाल का दौरा

एक सवाल के जवाब में अनिल विज ने कहा कि आज की बैठक में प्रदेश के निजी अस्पतालों द्वारा कोरोना उपचार के लिए वूसली जा रही फीस पर भी चर्चा की गई है। सभी जिला मॉनिटरिंग कमेटियों को निर्देश दिए गए हैं कि वह अपने-अपने क्षेत्र में चल रहे प्राइवेट अस्पतालों का दौरा करके यह सुनिश्चित करें कि निजी अस्पताल तय दरों से अधिक पैसा न वसूलें।

प्रचार की बजाए मरीजों को संभाले दिल्ली सरकार

देशभर में कोरोना के बढ़ रहे मरीजों के बाद संसाधनों की कमी को लेकर उठाए जा रहे सवाल पर प्रदेश के स्वास्थ्य एंव गृहमंत्री अनिल विज ने कहा कि जितनी भी विपक्ष की सरकारें हैं वह जानबूझ कर यह मुद्दा उठा रहे हैं, जबकि संसाधन उपलब्ध करवाने का दायित्व उनकी सरकारों का है। विज ने सोमवार को यहां जारी एक बयान में कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल विज्ञापन पर पैसा खर्च कर रहे हैं। यदि कोई संसाधन की कमी है तो वह व्यवस्था कर लें, जो वह विज्ञापन पर खर्च कर रहे हैं वह दवाईयों पर खर्च कर लें। यदि कोई दवाई हिंदुस्तान से नहीं मिल रही तो उसे विदेश से मंगवा लें। एनसीआर में लगातार मरीजों की संख्या सामने आने पर मंत्री अनिल विज ने कहा कि हरियाणा में जितने भी मरीज आ रहे हैं उनमें गुरुग्राम, फरीदाबाद व सोनीपत से कुल हरियाणा के 50 प्रतिशत मरीज हैं। दिल्ली में मरीजों को सुविधाएं नहीं मिल पा रही, जिसके कारण वह हरियाणा में आ रहे हैं। विज ने कहा कि हम मरीजों को धक्का तो नहीं मार सकते और हम सभी को सुविधाएं व इलाज देने का प्रयास कर रहे हैं। हरियाणा में कोरोना के मरीजों को देखते हुए सरकार की तैयारियों को लेकर अनिल विज ने कहा कि सरकार पूरी तरह से अलर्ट है और सभी आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं।

Check Also

गृह मंत्री ने DGP सौंपी लॉकडाउन 20 मई तक बढ़ाने का फर्जी मैसेज की जांच

चंडीगढ़। हरियाणा में कोरोना से चल रही जंग के बीच कुछ असामाजिक तत्व अफवाहें फैलाकर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share
See our YouTube Channel