Home » ब्रेकिंग न्यूज़ » तेजस में बालाकोट से ज्यादा बड़ी स्ट्राइक करने की ताकत: एयरफोर्स चीफ

तेजस में बालाकोट से ज्यादा बड़ी स्ट्राइक करने की ताकत: एयरफोर्स चीफ

एयरफोर्स चीफ भदौरिया बोले- लाइट कॉम्बैट एयरक्रॉफ्ट तेजस के आने से 4 स्क्वाड्रन में होगा इजाफा

Strength to strike bigger than Balakot in Tejas: नई दिल्ली। इंडियन एयरफोर्स चीफ एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने कहा है कि तेजस फाइटर जेट चीन और पाकिस्तान के ज्वाइंटर वेंचर में बने जेएफ-17 से हाईटेक और बेहतर है। भदौरिया ने आगे कहा, तेजस बालाकोट स्ट्राइक से भी ज्यादा ताकत से हमला कर सकता है। यह किसी भी हथियार की बराबरी करने में सक्षम है।

दो की बजाय 6 होंगे स्क्वॉड्रन

न्यूज एजेंसी से बातचीत करते हुए एयरफोर्स चीफ ने कहा कि लाइट कॉम्बैट एयरक्रॉफ्ट तेजस के आने से 4 स्क्वाड्रन में इजाफा भी होगा। अभी 2 स्क्वॉड्रन हैं और 83 नए तेजस के शामिल होने के बाद ये बढक़र 6 हो जाएंगे। उन्होंने यह भी कहा कि अनिवार्य रूप से इन विमानों की तैनाती फ्रंटलाइन पर होगी।

अगले कुछ सालों में बदल जाएगा पूरा सिस्टम

भदौरिया ने कहा कि 83 एयरक्राफ्ट काफी ज्यादा हैं। जब इस तरह के ऑर्डर दिए जाते हैं तो अगले 8-9 साल में पूरा सिस्टम बदल जाएगा। मिलिट्री एविएशन के लिए ये बड़ा कदम है। फाइटर एयरक्राफ्ट प्रोडक्शन में भी ये बड़ा मूव है। स्वदेशी डिफेंस प्रोडक्शन इंडस्ट्री को भी इससे मजबूती मिलेगी।

केंद्र सरकार ने बुधवार को ही इंडियन एयरफोर्स के लिए 83 तेजस फाइटर जेट खरीदने की मंजूरी दी है। ये सभी फाइटर जेट हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड तैयार करेगी। लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट तेजस फाइटर तैयार करने के लिए ने नासिक और बेंगलुरु में सेटअप तैयार कर लिया है।

तेजस में 60 प्रतिशत स्वदेशी पार्ट्स होंगे

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने बुधवार को कहा था कि एलसीए तेजस के वैरिएंट में 50 प्रतिशत की बजाय 60 प्रतिशत स्वदेशी उपकरण और तकनीक का इस्तेमाल किया जाएगा। एलसीए तेजस इंडियन एयरफोर्स फ्लीट की रीढ़ की हड्डी बनने जा रहा है। इससे एयरफोर्स की मौजूदा ताकत में जबरदस्त इजाफा होगा।

Check Also

Girls on internet

इंटरनेट वाली लड़की ने शादी तय होने पर युवक के पैसों से की खूब शॉपिंग, कुल 6 लाख का चूना लगा हो गई गायब

कहते हैं कि आजकल इंटरनेट का जमाना है क्यों कही जाना है जब सब घर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share
See our YouTube Channel