Home » Photo Feature » सिर्फ एक यात्री को लेकर 535KM दौड़ी राजधानी एक्सप्रेस, इस लड़की की जिद के सामने रेलवे की एक न चली

सिर्फ एक यात्री को लेकर 535KM दौड़ी राजधानी एक्सप्रेस, इस लड़की की जिद के सामने रेलवे की एक न चली

नई दिल्ली: आपको यह सुनने में थोड़ा अजीब जरूर लग रहा होगा कि एक ट्रेन एक अकेले यात्री को लेकर ट्रैक पर दौड़ी वो भी इतनी लम्बी दूरी तक।और फिर यह कोई लोकल ट्रेन भी नहीं है राजधानी एक्सप्रेस है।दरअसल, हुआ यूं कि इस राजधानी एक्सप्रेस को ट्रैक जाम होने की वजह से बीच में ही रोकना पड़ गया।जहां यात्रियों से कहा गया कि ट्रेन अब आगे नहीं जा पाएगी। उनके लिए बसों की व्यवस्था कर दी गई है वह उससे अपने गंतव्य तक चले जाएं।वहीं यह सुनते ही सभी यात्री ट्रेन से उतर गए और बसों में बैठ अपनी राहों को चलते बनें मगर एक लड़की ट्रेन से नहीं उतरी।जहां जब उससे रेलवे कर्मचारियों ने कहा कि आप क्यों नहीं उतर रही हैं तो लड़की का जबाब था कि वह इसी ट्रेन से ही अपने गंतव्य तक जाएगी।वह बस से नहीं जाएगी।उसे बस से जाना होता तो वह राजधानी एक्सप्रेस में सफर क्यों करती।क्यों लेती इतनी महंगी टिकट।वह जाएगी तो सिर्फ राजधानी से ही।वहीं लड़की की इस बात पर जब रेलवे कर्मचारियों ने उससे कहा कि कोई बात नहीं आपके लिए कार कर दी जाएगी आप उससे चली जाइये क्योंकि राजधानी तो जाने वाली नहीं।पर लड़की ने कार के ऑफर को भी ठुकरा दिया और राजधानी से ही जाने पर अड़ गई।लड़की कहने लगी वह जाएगी तो इसी से जाएगी।यह ट्रेन उसे किसी भी प्रकार उसके गंतव्य तक छोड़े जाकर।फिलहाल, रेलवे कर्मचारियों ने लाख कहा कि इस ट्रेन को अब नहीं चलाया जा सकता है आगे ट्रैक जाम है पर लड़की ने एक न सुनी।उसने तो राजधानी एक्सप्रेस से ही जाने की कसम खा ली थी।

मुगलसराय से रांची के लिए नई दिल्ली-रांची स्पेशल राजधानी एक्सप्रेस में बैठी थी…

लड़की झारखंड के रांची की रहने वाली है और वह रांची से बाहर रहकर LLB की पढ़ाई कर रही है यानि वह एक लॉ स्टूडेंट है।लड़की मुगलसराय स्टेशन से अपने घर रांची जाने के लिए नई दिल्ली-रांची स्पेशल राजधानी एक्सप्रेस में चढ़ी थी।जहां यहां से तो ट्रेन छूटी लेकिन रांची पहुंचने से पहले ही बीच में रुक गई।कारण रहा टाना भगतों का आंदोलन।लातेहार जिले में टोरी जंक्शन के निकट टाना भगत समुदाय के लोग ट्रैक को जामकर उसपर बैठकर आंदोलन कर रहे थे औऱ कोई भी ट्रेन ट्रैक से नहीं गुजरने दे रहे थे।वहीं यही देखते हुए नई दिल्ली-रांची स्पेशल राजधानी एक्सप्रेस को डालटनगंज स्टेशन पर ही स्टॉपेज दे दिया गया।एक रेलवे अधिकारी के अनुसार, ट्रेन को यहां रोक दिया गया और काफी देर तक यह इंतजार किया गया कि आंदोलनकर्ता हट जाएंगे लेकिन इंतजार करते करते कई घन्टे हो गए वह नहीं हटे।जिसके बाद ट्रेन के 930 यात्रियों के लिए बस की व्यवस्था कर दी गई।जहां 929 यात्री तो बस से चले गए मगर यह लड़की नहीं गई।जहां इस बारे में जानकारी रेलवे बोर्ड के चेयरमैन को दी गई और वहां से आदेश मिला कि रुट परिवर्तित कर लड़की को रांची पहुँचा दिया जाए।

लड़की इसी से जाकर मानी…

आखिरकार लड़की नई दिल्ली-रांची स्पेशल राजधानी एक्सप्रेस को चलवाकर ही मानी।लड़की की जिद को देखते हुए डालटनगंज स्टेशन से नई दिल्ली-रांची स्पेशल राजधानी एक्सप्रेस 9 घंटे के बाद चलाया गया।डालटनगंज पर 9 घन्टे तक खड़ी रहने के बाद नई दिल्ली-रांची स्पेशल राजधानी एक्सप्रेस दूसरे मार्ग से रांची के लिए रवाना हुई।इस प्रकार से परिवर्तित मार्ग से रांची पहुंचने पर इसने 535KM किलोमीटर का सफर तय किया।इस दरमियान नई दिल्ली-रांची स्पेशल राजधानी एक्सप्रेस में एक ही सवारी मौजूद रही यानि यही लड़की।बतादेंकि कि, लड़की ट्रेन में अकेली थी, इसके लिए इसे रेलवे की तरफ से सुरक्षा भी प्रदान की गई थी।लड़की की सुरक्षा में महिला सिपाहियों को उसके साथ में रांची तक भेजा गया था।

पहुँचते ही रांची स्टेशन पर पापा आये लेने…

टाना भगत समुदाय ट्रैक जामकर कर रहा है आंदोलन…

लातेहार जिले में टोरी जंक्शन के निकट रेलपटरी को जाम कर टाना भगत समुदाय के आंदोलन से रेलवे को काफी नुकसान उठाना पड़ रहा है।मालगाड़ियों के साथ साथ कोरोना संक्रमण काल में चल रही स्पेशल यात्री ट्रेन को दूसरे मार्ग से चलाया जा रहा है।

Check Also

संसद में बेटियों को लेकर बेबाक हुए रवि किशन, बोले- किसी भी इंडस्ट्री में कोई ऐसी जुर्रत न करे VIDEO

नई दिल्ली: संसद की कार्यवाही में अभीतक बॉलीवुड में ड्रग परोसे जाने का मुद्दा खूब …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share
See our YouTube Channel