हमारी नहीं सुननी, अपने विधायकों की ही बात मान लें कैप्टन : मान - Arth Parkash
Sunday, January 20, 2019
Breaking News
Home » पंजाब » हमारी नहीं सुननी, अपने विधायकों की ही बात मान लें कैप्टन : मान
हमारी नहीं सुननी, अपने विधायकों की ही बात मान लें कैप्टन : मान

हमारी नहीं सुननी, अपने विधायकों की ही बात मान लें कैप्टन : मान

चंडीगढ़। आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब के नेता और सांसद भगवंत मान ने नशे के मुद्दे पर मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह से आज अपील की कि यदि वह विरोधी दलों की नशे संबंधी अपीलें नहीं सुनना या मानना चाहते तो अपने विधायकों-नेताओं की बात ही मान लें।पार्टी के यहां जारी बयान में श्री मान ने जीरा के कांग्रेसी विधायक कुलबीर सिंह जीरा की ओर से फिरोजपुर में एक सरकारी कार्यक्रम में नशे के कारोबार में अफसरों और प्रभावशाली लोगों की मिलीभगत का आरोप लगाने पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि कैप्टन अपनी पार्टी के विधायकों की बात सुनकर ही बठिंडा में खाई श्री गुटका साहिब की कसम निभा दें।

श्री मान ने कहा कि कुलबीर जीरा से पहले कांग्रेसी विधायक सुरजीत सिंह धीमान भी सार्वजनिक तौर पर कह चुके हैं कि इस सरकार के शासन में भी बादलों की सरकार की तरह नशा माफिया सरगर्म है।आप नेता के अनुसार उन्होंने और उनकी पार्टी ने पिछले कई सालों से नशा माफिया के विरुद्ध आवाज उठाई है, जिससे बादलों ने तो क्या सुनना था, कैप्टन अमरिन्दर सिंह भी नहीं सुन रहे, हालांकि कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने 2017 की विधान सभा चुनाव से पहले बठिंडा में तख्त श्री दमदमा साहिब (तलवंडी साबो) की तरफ मुंह करके श्री गुटका साहिब जी की कसम उठाई थी कि मुख्य मंत्री बनने के उपरांत वह चार हफ्तों के अंदर राज्य में नशा खत्म कर देंगे और सभी छोटे-बड़े नशा तस्करों को जेल में फेंक देंगे।

श्री मान ने आरोप लगाया कि बेरोजगारी की मार झेल रहे पंजाबी नौजवानों का नशा तस्करों के जाल में फंसना लगातार जारी है, प्रति दिन अखबारों-मीडिया में नशे की ओवर डोज से मर रहे नौजवानों की खबरें कैप्टन सरकार की पोल खोलती हैं, परंतु कांग्रेस सरकार पिछली बादल सरकार के रास्ते पर चलते हुए नशा माफिया को प्रोत्साहित कर रही है और कांग्रेसी विधायक जीरा ने अपनी सरकार के इस कड़वे सच पर मोहर लगाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share