राष्ट्रपति ने राज्यसभा के लिए चार हस्तियों को किया मनोनीत
Saturday, July 21, 2018
Breaking News
Home » देश » राष्ट्रपति ने राज्यसभा के लिए चार हस्तियों को किया मनोनीत
राष्ट्रपति ने राज्यसभा के लिए चार हस्तियों को किया मनोनीत

राष्ट्रपति ने राज्यसभा के लिए चार हस्तियों को किया मनोनीत

नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राकेश सिन्हा, सोनल मानसिंह, रघुनाथ महापात्र और राम सकल सिंह को राज्यसभा के लिये मनोनीत किया है। सूत्रों के अनुसार संविधान के अनुच्छेद 80 के तहत प्रदत्त शक्तियों का उपयोग करते हुए और प्रधानमंत्री की सलाह पर राष्ट्रपति ने इन चार लोगों को राज्यसभा के लिये मनोनीत किया है।राकेश सिन्हा दिल्ली स्थित विचार समूह ‘इंडिया पालिसी फाउंडेशन के संस्थापक और मानद निदेशक हैं। वे दिल्ली विश्वविद्यालय में मोतीलाल नेहरू कालेज में प्रोफेसर और भारतीय सामाजिक विज्ञान शोध संस्थान के सदस्य हैं। वे नियमित रूप से समाचारपत्रों में आलेख लिखते हैं। राकेश हर दूसरी रात टीवी चैनलों के तमाम पैनलों में भी आते हैं। वह संघ की विचारधारा खुलकर रखते हैं जिन्हें लेकर घोर वाद-विवाद भी होता है।

पद्मविभूषण से सम्मानित कलाकार डॉ. सोनल मानसिंह भारतीय शास्त्रीय नृत्यकला की मशहूर कलाकार है। वह छह दशकों से भरतनाट्यम एवं ओडिसी का प्रदर्शन करती रहीं हैं। वह नृत्यनिर्देशिका, शिक्षिका और सामाजिक कार्यकर्ता भी है। उन्होंने दिल्ली में 1977 में सेंटर फॉर इंडियन क्लासिकल डांसेका की स्थापना की थी। वह स्वच्छ भारत अभियान में भी काफी एक्टिव रहीं। जब मोदी सरकार ने स्वच्छ भारत अभियान के लिए नवरत्न चुने तो उसमें इन्हें भी जगह दी गई थी। इस कड़ी में काम करते हुए उन्होंने स्वच्छ भारत के लिए लोगों को प्रोत्साहित किया।

रघुनाथ महापात्र एक विख्यात मूर्तिकार हैं जो पद्म विभूषण से सम्मानित हो चुके हैं। रघुनाथ का पारंपरिक स्थापत्य और धरोहरों के संरक्षण में महत्वपूर्ण योगदान रहा है। उन्होंने श्री जगन्नाथ मंदिर, पुरी के सौदर्यीकरण कार्य में हिस्सा लिया। उनके प्रसिद्ध कार्यो में छह फुट लम्बे भगवान सूर्य की संसद के सेंट्रल हाल में स्थित प्रतिमा और पेरिस में बुद्ध मंदिर में लकड़ी से बने बुद्ध हैं। उन्हे अंतरराष्ट्रीय स्तर पर शिल्प गुरु के नाम से जाना जाता है।

उत्तर प्रदेश के राम शकल सिंह ने दलित समुदाय के कल्याण एवं बेहतरी के लिये काम किया है। एक किसान नेता के रूप में उन्होंने किसानों, श्रमिकों के कल्याण के लिये काम किया। वह सोनभद्र के रॉबर्ट्सगंज (सुरक्षित) लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से 1996, 1998 और 1999 में कुल तीन बार सांसद निर्वाचित हो चुके हैं। राम शकल श्रमिक और कल्याण, ऊर्जा, कृषि, पेट्रोलियम और नैचुरल गैस से संबंधित संसद की समितियों के सदस्य भी रहे हैं।

गौरतलब है कि क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर, फिल्म अभिनेत्री रेखा व अनु आगा और के पारासन का कार्यकाल समाप्त होने से राज्यसभा की चार सीटें खाली हो गई थीं। राज्यसभा के मानसून सत्र से पहले राज्यसभा से खाली हुईं चार सीटों के लिए खेल, कला और सामाजिक वर्ग से कई नामों की चर्चा तेज हो गई थी। इसमें क्रिकेटर कपिल देव, अभिनेत्री माधुरी दीक्षित, नेताजी सुभाष चंद्र बोस के परिवार से चंद्र कुमार बोस आदी के नामों की चर्चा हो रही थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share