Home » ब्रेकिंग न्यूज़ » बेजुबान बंदर हुआ इंसान की बर्बरता का शिकार, फांसी पर लटकाया

बेजुबान बंदर हुआ इंसान की बर्बरता का शिकार, फांसी पर लटकाया

यह वीडियो तेलंगाना का है जिसमे मरी हुई इंसानियत को साफ देखा जा सकता है।निर्दयीपन की हद को पार किये लोग एक बेजुबान बंदर को पेड़ से फांसी पर लटकाए हुए हैं।बन्दर लटके लटके झटपटा रहा है कि कोई उसे इस फंदे से छुड़ा दे लेकिन उसकी बदनसीबी ऐसी है कि जो लोग उसके आसपास हैं वह सब उसकी जान लेना चाहते हैं।आखिरकार, बन्दर तड़प-तड़पकर मर जाता है।

 

आप वीडियो में देखेंगे कि बन्दर जिस पेड़ पर लटका है उसके पास में तीन शख्स लाठी डंडे लेकर खड़े हुए हैं इन्ही ने ही बन्दर को फांसी पर टांगा है।इन तीनों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और बन्दर का शव बरामद कर उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया है।

पुलिस ने बताया, जहां बन्दर को लटकाया गया वहां अनेक प्रकार के फलों के कई बाग हैं जिन्हें बन्दर आकर तहस-तहस कर जाते हैं जिससे बाग रखाने वाले लोग परेशान रहते हैं।इसी को देखते हुए इन सब लोगों ने एक प्लानिंग बनाई कि बंदरों को पकड़ लिया जाए और उन्हें सबक सिखाया जाए।वहीं, जब बंदरों का गिरोह इनके बागों में भोजन की तलाश में आया तो इन्होंने उन्हें पकड़ने का जाल बिछाया लेकिन सब बन्दर न फंसकर एक बन्दर इनके जाल में फंस गया जिसे इन्होंने फांसी पर लटका दिया।पुलिस ने कहा कि इन्हें ऐसा कार्य नहीं करना चाहिए था यह इसकी शिकायत वन विभाग को भी दे सकते थे लेकिन इन्होंने ऐसा नहीं किया और सीधे बन्दर को मार डाला।

पुलिस के अनुसार, आरोपियों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है।इनका कहना है कि इन्होंने बन्दर को फांसी पर इसलिए लटकाया की यह देखकर बाकी बन्दर डर जाएं।इनके खिलाफ वन्यजीव संरक्षण कानून के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

बतादेंकि, इससे पहले भी देश की अलग अलग जगहों से बंदरों के साथ क्रूरता की खबरें सामने आ चुकी हैं।बंदरों को जहर देकर तो कहीं किसी प्रकार से मारने की खबरें सुनने को मिलती रही हैं।वहीं, बन्दर ही नहीं अन्य जानवरों के साथ भी इंसान का सलूक बर्बरतापूर्ण है।अभी हाल ही में एक दिल दहला देने वाली घटना केरल से आई थी याद है न आपको।जहां एक गर्भवती हथिनि को कुछ शरारती तत्वों ने विस्फोटक भरा अनानास खिला दिया था।जिसे खाने के बाद उसके मुंह में वह फट गया था और हथनि की उसके बच्चे समेत मौत हो गई थी।यह घटना पूरे देश में गूंजी थी।

फिलहाल इंसान जिस प्रकार से प्रकति का हिस्सा होते हुए प्रकृति के दूसरे हिस्से जैसे बेजुबान जानवरों, पक्षियों को नुकसान पहुंचा रहा है यह कतई उचित नहीं है।अगर इंसान नहीं सुधरा और ऐसे ही क्रूर कृत्य करता रहा तो एक दिन प्रकृति के भयानक प्रकोप से जरूर प्रकोपित होगा और अगर देखा जाए तो हो भी रहा है कोरोना रूपी प्रकोप इंसान का पीछा जो नहीं छोड़ रहा है।

Edited and Posted by Shiva Tiwari

Check Also

हरियाणा विधायकों के लिए स्‍पीकर का बड़ा फैसला, अब स्टडी टूर पर अन्‍य राज्यों में नहीं जा सकेंगे विधायक

हरियाणा: हरियाणा के स्‍पीकर ज्ञान चंद गुप्ता ने सभी विधायकों को एडजेस्ट कर बनाई गई …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share
See our YouTube Channel