Home » हेल्थ

हेल्थ

Anemia: एनीमिया हो तो खाएं ये चीजें, दूर होगी खून की कमी

Anemia

Anemia: भारत में हर छठा व्यक्ति एनीमिया(Anemia) से पीड़ित है। इस बीमारी से औरतें अधिक पीड़ित हैं। यह बीमारी शरीर में आयरन की कमी से होती है। खासकर गर्भावस्था के दौरान महिलाओं में आयरन की कमी अधिक होती है। इसलिए, डॉक्टर्स महिलाओं को आयरन युक्त चीज़ों को खाने की सलाह देते हैं। साथ ही महिलाओं को मासिक धर्म के समय …

Read More »

5 yoga routines: ये 5 योग नियमित करने से हड्डियां होती हैं मजबूत

5 yoga routines

5 yoga routines: हड्डियां हमारी शारीर का एक महत्वपूर्ण अंग हैं इसलिए बचपन और किशोरावस्था के दौरान मजबूत और स्वस्थ हड्डियों का निर्माण करना महत्वपूर्ण है। हड्डियां संरचना प्रदान करके, फेफड़ों और हृदय जैसे अंगों की रक्षा करके, मांसपेशियों को सहारा देकर और कैल्शियम का भंडारण करके हमारे स्वास्थ्य में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती हैं। 30 साल की उम्र के बाद, …

Read More »

Reduce Uric Acid: इस घरेलू उपचार की मदद से करें बढ़े हुए यूरिक एसिड को कम

Reduce Uric Acid

Reduce Uric Acid: कई बार हाथ-पैरों के जोड़ों या उंगलियों में बहुत तेज दर्द होता है, घुटना मोड़ने में भी तकलीफ होती है। तो ये सारे लक्षण बढ़े हुए यूरिक एसिड (Reduce Uric Acid) को हो सकते हैं। जिन्हें अनदेखा करने की गलती आगे चलकर बड़ी समस्या की वजह बन सकती है। समय-समय पर हेल्थ चेकअप कराते रहने से ये …

Read More »

Cool Down Exercise: एक्सरसाइज के दौरान कूल डाउन करते वक्त न करें ये गलतियां

Cool Down Exercise

Cool Down Exercise: जैसे एक्सरसाइज या वर्कआउट के लिए बॉडी को तैयार करने के लिए वॉर्म-अप करना जरूरी होता है, वैसे ही एक्सरसाइज खत्म करने के बाद कूल डाउन एक्सरसाइज (Cool Down Exercise) करना भी अहम है। यह मांसपेशियों की रिकवरी और बॉडी को रिलैक्स करने के लिए जरूरी है। ऐसा न करने पर बॉडी के कई हिस्सों में दर्द …

Read More »

Mental Development: बच्चों के मानसिक विकास के लिए भी बेहद जरूरी खेलकूद

Mental Development:

Mental Development: खेल बच्चे को व्यस्त बनाए रखने का स्वस्थ और आनंददायक तरीका है। अपने बच्चे को शुरुआती उम्र में खेलों से जोड़ने से उनके समग्र विकास में बड़ी मदद मिलती है। खेल लंबे समय से इंसान को स्वस्थ्य, प्रसन्न रखने में मददगार रहे हैं और बच्चों, युवाओं, वयस्कों और बुजुर्गों को कई तरह के फायदे भी प्रदान करते हैं। …

Read More »

Diabetes Control: डायबिटीज़ कंट्रोल करने तक में बेहद फायदेमंद है यह रामबाण

Diabetes Control

Diabetes Control: कसूरी मेथी आपके खाने का स्वाद और सुगंध दोनों बढ़ाने का काम करती है। लेकिन क्या आप जानते हैं खाने में इसका इस्तेमाल करके आप डाइजेशन के साथ-साथ लिवर, हार्ट को भी हेल्दी रख सकते हैं। इसकी खूबियां यहीं खत्म नहीं हो जाती बढ़े हुए डायबिटीज़ और बैड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा भी इससे कम और कंट्रोल किया जा …

Read More »

आप चेहरे पर कितने मिनट करती हैं स्क्रब? यहां जानें कितना करना है सही

How many minutes do you scrub your face? Learn here how much to do right

How many minutes do you scrub your face?: पॉर्लर में नॉर्मली थ्रेडिंग, अपरलिप्स कराने जाइए और वो आपकी स्किन केयर में इतने नुक्स निकाल देंगी कि आपको हार कर क्लीनअप या फेशियल कराना ही पड़ जाता है। फिर बाद में लंबा-चौड़ा बिल देखकर अफसोस होता है। देखिए फेशियल, क्लीनअप ट्रीटमेंट से नो डाउट चेहरे पर अलग ग्लो नजर आता है …

Read More »

मधुमक्खी के काटने पर इन घरेलू तरीकों से करें उपचार

Treat bee bites with these home remedies

Treat bee bites with these home remedies: मधुमक्खी या दूसरे कीट आपको किसी तरह का नुकसान पहुंचाना के लिए नहीं बल्कि अपनी सुरक्षा के लिए काटते हैं। उन्हें जब आपसे किसी तरह का ख़तरा महसूस होता है, तो वे डंक मार देते हैं। मधुमक्खी या फिर कई ऐसे कीट हैं, जिनके काटने से तेज़ दर्द भी होता है। मधुमक्खियों के …

Read More »

देखें अपनी उम्र के हिसाब से आपके लिए कितने घंटे की नींद है जरुरी

Sleep is necessary

Sleep is necessary : सोना हमारे लिए कितना जरुरी है यह तो आप जानते ही होंगे। दिनभर की भागदौड़ और थकान के बाद जब हम सोते हैं तो हमारे दिमाग में कई तरह के केमिकल रिएक्शन होते हैं जिससे हमारे शरीर को ठीक तरह से काम करने में मदद मिलती है। अगर हम कम सोएं या हमारी नींद पूरी ना …

Read More »

पितरों को प्रसन्न करने को करें श्राद्ध, ज्योतिषार्य ने बताई तर्पण की विधि

To please the ancestors, perform Shradh, the astrologer told the method of tarpan

To please the ancestors: पितरों के उद्देश्य से विधिपूर्वक जो कर्म श्रद्धा से किया जाता है, उसे ही श्राद्ध कहते हैं। “ श्र्द्धार्थमिदम श्राद्धम।” इसी को पित्रियज्ञ भी कहते हैं। पराशर ऋषि के अनुसार, देशकाल परिस्थिति के अनुसार श्रद्धापूर्वक जो कर्म काला तिल, जौ और कुश (दर्भ) के साथ मन्त्रों के द्वारा किया जाए, वही श्राद्ध है। प्रति वर्ष पितृ …

Read More »
Share
See our YouTube Channel