Home » संपादकीय

संपादकीय

न हो पक्षपात, मिलकर लड़ें कोरोना से युद्ध

There should be no partiality, fight together with Corona

कोरोना संक्रमण से युद्ध के बीच यह आरोप विचलित कर देता है कि केंद्र सरकार गैर भाजपा शासित राज्यों के साथ पक्षपात कर रही है। क्या वास्तव में ऐसा है? अगर ऐसा है तो यह बेहद आपत्तिजनक और दुर्भाग्यपूर्ण है। लेकिन अगर ऐसा नहीं है तो राजनीतिकों को ऐसे बयान देने से बचना चाहिए और वस्तुस्थिति को समझना चाहिए। केंद्र …

Read More »

सच में सरकारें बन चुकी हैं शुतुरमुर्ग

In truth, the ostriches have been formed by governments

क्या यह मान लेना चाहिए कि सरकारों के हाथ में अब ज्यादा कुछ नहीं रहा है और उन्हें एकतरफ बैठ जाना चाहिए। ऐसे में न्यायपालिका ही देश को चलाएगी। दरअसल, ऐसा इसलिए कहना पड़ रहा है, क्योंकि आजकल लगभग रोजाना ही सुप्रीम कोर्ट एवं राज्यों के हाईकोर्ट ऐसी व्याख्याएं दे रहे हैं, जिनमें केंद्र एवं राज्य सरकारों को कड़ी फटकार …

Read More »

मराठा आरक्षण पर अदालत की रोक

Court's ban on Maratha reservation

सर्वोच्च न्यायालय का हालिया फैसला निश्चित रूप से देश में आरक्षण की राजनीति को आईना दिखाने वाला है। इस फैसले से न केवल आरक्षण की अधिकतम 50 फीसद सीमा समाप्त करने की राज्यों की मांग पर विराम लग गया है, अपितु आरक्षण को लेकर राज्यों में होने वाली राजनीति और वोट की सौदेबाजी पर भी अंकुश लग गया है। देश …

Read More »

बंगाल में रोका जाए हिंसा का दौर

The period of violence should be stopped in Bengal

विधानसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस की जीत ने बंगाल के अंदर हिंसा का जैसा दौर शुरू किया है, वह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण और आहत करने वाला है। द्वेषपूर्ण सोच से तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता जिस प्रकार भाजपा समर्थकों, कार्यकर्ताओं पर हमले कर रहे हैं, वह यह बताता है कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के समर्थकों को इसी का इंतजार था कि प्रदेश …

Read More »

लॉकडाउन हो पर अर्थव्यवस्था न हो ‘संक्रमित’

lockdown-but-economy-not-infected

कोरोना संक्रमण के खिलाफ देश में एकबार फिर बीते वर्ष वाली दवाई ही इस्तेमाल में लाने की तैयारी है। यह दवाई लॉकडाउन है। अभी कुछ दिन पहले ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि देश में लॉकडाउन अंतिम विकल्प होगा यानी इससे पहले अन्य उपायों पर विचार होगा। हालांकि जिस प्रकार संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं, वैसे-वैसे मौतों …

Read More »

बंगाल में सच में हो गया खेला

really-played-in-bengal

बंगाल विधानसभा चुनाव के परिणाम भाजपा के लिए अप्रत्याशित हैं, लेकिन तृणमूल कांग्रेस के लिए भी इन्हें सुनिश्चित नहीं माना जाना चाहिए। लोकसभा चुनाव में 121 से ज्यादा सीटों पर अपना असर दिखाने वाली भाजपा अगर विधानसभा चुनाव में 76 सीटों पर ही कामयाबी हासिल कर सकी तो इसका अभिप्राय यह है कि बंगाल की जनता को मोदी नहीं अपितु …

Read More »

वैक्सीन के लिए कौन धमका रहा

Who is threatening for the vaccine: देश यह जरूर जानना चाहेगा कि वे शक्तिशाली लोग कौन हैं, जिन्होंने दुनिया की सबसे बड़ी वैक्सीन निर्माता कंपनी सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया के सीईओ अदार पूनावाला से उग्रतापूर्ण बातें की हैं, उन्हें डराया और धमकाया है। यह कैसी विडम्बना है कि जिस वैक्सीन निर्माता कंपनी से देश को इतनी उम्मीदें हैं, जिसकी वैक्सीन …

Read More »

कोरोना के खिलाफ पहाड़ जैसे प्रयास

Mountain-like efforts against Corona: कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर ने जीवन पूरी तरह अस्त-व्यस्त कर दिया है। न जाने कब कौन संक्रमित हो जाए और फिर उसकी सांसें किसी अस्पताल के बैड पर या फिर कॉरिडोर में, गाड़ी की सीट पर, स्ट्रेचर पर या फिर बैठे-बैठे ही थम जाएं। कितना दुखद है, जब हर तरफ से ऐसी खबरें हम से …

Read More »

बेअदबी पर पंजाब कांग्रेस में तकरार

Dispute in Punjab Congress: श्री गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी मामले को लेकर पंजाब सरकार और कांग्रेस के अंदर जैसा घमासान चल रहा है, वह न केवल सरकार की सेहत खराब कर रहा है, अपितु पार्टी को भी भंवर में डाल रहा है। सरकार के मुखिया के तौर पर कैप्टन अमरिंदर सिंह जिस प्रकार अधिकारियों के प्रति नरम दिख रहे …

Read More »

दूसरी लहर के लिए सभी जिम्मेदार

All responsible for the second wave: लोकतंत्र में चुनाव एक पर्व होता है, उसके आयोजन की खुशी जहां नेता के सिर चढक़र बोलती है, वहीं मतदाता भी खुद को इस खुशी से दूर नहीं रख पाता। हालांकि अगर देश में ऐसे हालात हों कि घर से निकलना भी खतरनाक हो और चारों तरफ एक संक्रमण का साया मंडराता रहता हो, …

Read More »
Share
See our YouTube Channel