Home » चंडीगढ़ » सेक्टर-37 स्थित कोठी विवाद मामला : प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता के बाद शराब कारोबारी सिंगला भी हिरासत में
Liquor businessman Singla in custody

सेक्टर-37 स्थित कोठी विवाद मामला : प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता के बाद शराब कारोबारी सिंगला भी हिरासत में

Liquor businessman Singla in custody : वरिष्ठ पत्रकार और प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता के बाद अब कोठी विवाद मामले में लिकर कॉन्ट्रैक्टर अरविंद सिंगला को भी पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। हांलाकि पुलिस इस मामले की पुष्टि नहीं कर रही है। लेकिन बताया जाता है कि शराब कारोबारी अरविंद सिंगला को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है। अरविंद को पुलिस ने जीरकपुर से हिरासत में लिया है। इसके लिए पुलिस ने देर रात चंडीगढ़, पंजाब और हरियाणा में 11 अलग-अलग जगहों पर रेड की है।

Liquor businessman Singla in custody: वहीं दूसरी ओर बुधवार को एसआईटी टीम ने सेक्टर 37 स्थित पत्रकार के घर सर्च किया। सर्च के दौरान पुलिस को प्रॉपर्टी के कुछ कागजात और बैंक एकाउंट का पता लगा रही है। पुलिस मामले में पूरा ब्यौरा ले रही है। पकड़े गए दोनों आरोपी थाना 31 पुलिस के पास 3 दिन के रिमांड पर है। मामले में पुलिस ने फरार चल रहे अन्य आरोपियों के बारे में पूछताछ करनी है। पुलिस का कहना है कि अन्य आरोपियों को जल्द काबू कर लिया जाएगा। पुलिस मामले में फरार चल रहे आरोपी आरोपियों के बिल्कुल करीबी है।

Liquor businessman Singla in custody: गौरतलब है कि सेक्टर-39 थाना पुलिस ने सेक्टर-37 स्थित एक कोठी के विवाद के मामले में 9 लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी और दूसरे कई धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। पुलिस ने इस मामले में वरिष्ठ पत्रकार और प्रॉपर्टी डीलर मनीष गुप्ता को सोमवार रात गिरफ्तार कर लिया था। दोनों को मंगलवार को कोर्ट में पेश कर तीन दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा गया है।

क्या था मामला: जानकारी के मुताबिक सेक्टर 37 स्थित कोठी नंबर 340 में कब्जा कर वारिस मालिक को अगवा और घर को बेचने के मामले में पुलिस ने वरिष्ठ पत्रकार और डीएसपी के भाई समेत 9 आरोपियों पर अपहरण ,धोखाधड़ी, अपराधिक षड्यंत्र रचने समेत 15 विभिन्न विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया था।मामले में बनाई गई एसआईटी टीम ने बीते सोमवार रात दो आरोपी जिसमे पत्रकार संजीव महाजन और मनीष गुप्ता को गिरफ्तार करने के बाद अगले दिन मंगलवार को दोपहर जिला अदालत में पेश किया गया था। अदालत ने पकड़े गए दोनों आरोपियों को 3 दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया। मामले में पुलिस में तैनात डीएसपी के भाई सतपाल डागर,अरविंद सिंगला, संजीव महाजन, खलेंद्र सिंह कादियान,अशोक अरोड़ा, सौरभ गुप्ता ,मृतक बाउंसर सुरजीत सिंह, शेखर और अन्य को आरोपी बनाया गया है। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धारा 452 ,331, 344, 365, 386, 419, 420, 465,467, 468, 471, 473, 474, 477, 120बी के तहत मामला दर्ज किया। एसएसपी ने बताया था कि चंडीगढ़ के सेक्टर 37 स्थित कोठी नंबर 340 राहुल मेहता की मां के नाम पर है। राहुल मेहता के पिता वेद प्रकाश मेहता माता और भाई मोहित मेहता का स्वर्गवास हो चुका है। जिसके बाद राहुल मेहता कोठी का इकलौता वारिस और मालिक है। राहुल मेहता की बीमारी का फायदा उठाते आरोपी संजीव महाजन ,मर्तक बाउंसर सुरजीत सिंह, सुखबीर उर्फ बिट्टू, मनीष गुप्ता, खली और अन्य अपराधिक षड्यंत्र रचते हुए उक्त कोठी पर कब्जा कर लिया।

 

Check Also

एक्साइज विभाग में उमदा कारगुजारी दिखाने वाले 10 इंस्पेक्टरों सम्मानित

जालंधर : एक्साइज विभाग में उमदा कारगुजारी दिखाने वाले 10 इंस्पेक्टरों को सोमवार को विभाग …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share
See our YouTube Channel