Breaking News
Home » Photo Feature » विश्व कप में लियोन और मेरी अहम भूमिका: जम्पा

विश्व कप में लियोन और मेरी अहम भूमिका: जम्पा

मेलबोर्न। क्रिकेट के सबसे बड़े टूर्नामेंट विश्व कप के शुरू होने से पहले ऑस्ट्रेलिया के लेग स्पिनर एडम जम्पा ने कहा है कि उनकी और ऑफ स्पिनर नाथन लियोन की इंग्लैंड की पिचों पर मध्य ओवरों में बेहद अहम भूमिका होगी।

जम्पा को गत वर्ष इंग्लैंड के खिलाफ एकदिवसीय सीरीज में जगह दी गयी थी और अब वह टीम के खास हिस्सा है। उन्होंने इस वर्ष की शुरुआत में भारत और संयुक्त अरब अमीरात में पाकिस्तान के खिलाफ सीरीज में शानदार प्रदर्शन किया था जिसके बाद वह लियोन के साथ ऑस्ट्रेलिया टीम के प्रमुख स्पिनर के तौर पर बन कर उभरे हैं। इन दो सीरीज में जम्पा ने क्रमशः 11 और 7 विकेट लिए थे।

माना जा रहा है कि इंग्लैंड की सपाट पिचों पर बेशक जम्पा थोड़े अधिक रन खा सकते है लेकिन उनका ध्यान मध्य ओवरों में विकेट लेकर तेज गेंदबाजों को अंतिम ओवरों में राहत देना है।

लेग स्पिनर ने विश्व कप में गेंदबाजी को लेकर कहा, “अगर आप आखिरी 10 ओवरों में मध्य और निचले क्रम के बल्लेबाजों को गेंदबाजी करते है तो इससे तेज गेंदबाजों को डैथ ओवरों में गेंदबाजी करने के लिए थोड़ी राहत मिलती हैं। उदाहरण के तौर पर अगर आप विराट कोहली या जो रुट जैसे बल्लेबाजों को आखिरी ओवरों में गेंदबाजी करेंगे तो परिस्थिति बेहद कठिन हो सकती है, इसलिए वनडे क्रिकेट में मध्य ओवरों में विकेट लेना बेहद आवश्यक हैं और इसी बात को लेकर मैंने कप्तान आरोन फिंच से बात की हैं।”

ऑस्ट्रेलिया के कोच जस्टिन लेंगर के मार्गदर्शन में ऑस्ट्रेलिया का गेम प्लान इस ओर केंद्रित नहीं है कि मध्य ओवरों में कैसे विकेट लिए जाएं बल्कि पिछले कुछ वर्षों में इस ओर केंद्रित हुआ है कि मध्य ओवरों में स्पिन के खिलाफ कैसे बेहतर बल्लेबाजी की जाए। हाल के वर्षो में ऑस्ट्रेलिया की योजना मध्य ओवरों में स्थिरता प्रदान करने और स्ट्राइक बदलने पर अधिक केंद्रित हुआ हैं। उनकी इस योजना से निचले क्रम के बल्लेबाजों को खुलकर बल्लेबाजी करने की छूट मिलती है।

हाल के वर्षो में गेंदबाजी में बदलाव पर जम्पा ने कहा, “पिछले तीन-चार वर्षो में यह देखा गया है कि खेल में थोड़े बदलाव आये है। स्पिनर की भूमिका पहले के मुकाबले अब अधिक है। हम स्पिन के आगे संघर्ष करते थे लेकिन पिछले 18 -12 महीनों में हमने इसमें बदलाव किया है और इसी के चलते भारत और दुबई में पाकिस्तान के खिलाफ हमने अच्छा प्रदर्शन किया है।”

ऑस्ट्रेलिया के भारत दौरे के दौरान जम्पा ने एकदिवसीय सीरीज में भारत के खिलाफ पांच मैचों में 25।81 के औसत से 11 विकेट लिए थे। उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ भी 37।28 के औसत से 7 विकेट लिए थे। अगर ऑस्ट्रेलिया इंग्लैंड की सूखी पिच पर लियोन और जम्पा दोनों को एक साथ खेला देते हैं तो विपक्षी टीमों के लिए उनका सामना करना बेहद कठिन होगा।

27 वर्षीय गेंदबाज ने कहा, “लियोन और मैं दोनों अलग तरह के गेंदबाज है। वह अपनी सटीक लाइन से बल्लेबाजों पर नकेल कस कर रखते हैं जिसका मतलब है कि मैं दूसरे छोर से विपक्षी बल्लेबाजों पर आक्रमण कर सकता हूं। पूरे विश्व कप में हमारी भूमिका बेहद अहम होने वाली है।”

जम्पा ने अपना पहला मैच फरवरी, 2016 में न्यूज़ीलैंड के खिलाफ खेला था। उन्होंने अभी तक 44 वनडे मुकाबले में 60 विकेट लिए हैं। ऑस्ट्रेलिया विश्व कप में अफगानिस्तान के खिलाफ अपने मुकाबले से पहले वेस्ट इंडीज, इंग्लैंड और श्रीलंका के खिलाफ अभ्यास मैच खेलेगा। विश्व कप 30 मई से इंग्लैंड और वेल्स में शुरू हो रहा है।

Check Also

BJP नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद को SIT ने किया गिरफ्तार, लॉ स्टूडेंट से रेप का है आरोप

BJP नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद को SIT ने किया गिरफ्तार, लॉ स्टूडेंट से रेप का है आरोप

नई दिल्ली: लॉ स्टूडेंट से रेप के आरोप में BJP नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share
See our YouTube Channel