Home » हरियाणा » कंवरपाल का दावा: किसान आंदोलन से निपटने के तरीके से अमित शाह संतुष्ट
Kanwarpal claims

कंवरपाल का दावा: किसान आंदोलन से निपटने के तरीके से अमित शाह संतुष्ट

कहा कि सरकार ने कहीं नहीं किया लाठीचार्ज

अभी नहीं करेंगे किसान महापंचायत व सार्वजनिक कार्यक्रम

Kanwarpal claims : केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह के साथ मुलाकात करके लौटे हरियाणा के शिक्षा मंत्री कंवर पाल गुर्जर ने कहा है कि किसान आंदोलन के दौरान प्रदेश सरकार ने बेहद संयम से काम लिया और कहीं पर भी लाठीचार्ज किए बगैर ही किसान आंदोलन को चलने दिया। यहीं नहीं सोनीपत जिले की सीमा में बैठे किसानों को भी सरकार द्वारा बुनियादी सुविधाएं मुहैया करवाई जाने पर गृहमंत्री अमित शाह पूरी तरह से संतुष्ट है।

बुधवार को चंडीगढ़ स्थित अपने कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत में कंवर पाल ने करनाल जिला के गांव कैमला में हुए घटनाक्रम को दुर्भाग्यपूर्ण करार देते हुए कहा है कि फिलहाल भाजपा द्वारा सरकार व संगठन के स्तर पर किसान महापंचायत जैसे कार्यक्रमों का आयोजन नहीं किया जाएगा। यही नहीं अभी किसी तरह के सार्वजनिक कार्यक्रम को टाला जाएगा। क्योंकि सरकार किसी तरह का टकराव नहीं चाहती है। इस संबंध में बीती रात गृहमंत्री अमित शाह के साथ भी विस्तार से बातचीत हुई है।

Kanwarpal claims : उन्होंने कहा कि हरियाणा में कुछ जगहों पर केवल वाटर कैनन का इस्तेमाल किया गया है। पुलिस के दृष्टिकोण से यह बेहद हलका बल है। वाटर कैनन को कठोर बल की श्रेणी में नहीं लिया जाता। उन्होंने बताया कि गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात के दौरान करनाल के गांव कैमला में हुई घटना पर विस्तार से चर्चा की गई है। जिसके बाद अभी किसी तरह के सार्वजनिक कार्यक्रम एवं किसान महापंचायत जैसे कार्यक्रम टालने का फैसला लिया गया है। गुर्जर ने कहा कि किसान आंदोलन से निपटने की सरकार की रणनीति से गृहमंत्री पूरी तरह से संतुष्ट नजर आए।

उन्होंने कहा कि करनाल समेत पूरे प्रदेश में कहीं भी जनता द्वारा भाजपा के मंत्रियों व सांसदों का विरोध नहीं किया जा रहा है। केवल कुछ लोग अपने स्वार्थों के चलते युवाओं को गुमराह करके उनका गलत इस्तेमाल कर रहे हैं। सरकार किसी तरह से टकराव नहीं चाहती है। उन्होंने कहा कि अमित शाह से हुई मुलाकात के दौरान प्रदेश के राजनीतिक हालातों पर विस्तार से चर्चा की गई है।

कैमला में मुख्यमंत्री ने जिस सूझबूझ का परिचय दिया उससे गृहमंत्री संतुष्ट नजर आए। वहां कुछ लोग माहौल बिगाडकऱ बड़ी घटना को अंजाम देना चाहते थे। गुर्जर ने कहा कि करनाल में किसानों ने जिस तरह से घटना को अंजाम दिया उससे पूरे प्रदेश में गलत संदेश गया है। उस घटना के बाद लोगों की किसानों के प्रति सहानुभूति कम हुई है। उन्होंने कहा कि अब यह मामला अदालत के विचाराधीन है। अदालत का फैसला सभी को मानना पड़ेगा।

सरकार के पास पूर्ण बहुमत, विपक्ष हुआ मुद्दा विहीन

संसदीय कार्य मंत्री कंवर पाल गुर्जर ने कहा कि बीती रात दिल्ली में गृहमंत्री अमित शाह के साथ हुई मुलाकात के दौरान दोनों दलों के सत्ता व संगठन के नेता मौजूद थे। इस बैठक में राजनीतिक हालातों पर भी चर्चा हुई है। उन्होंने दावा किया कि गठबंधन सरकार के पास बहुमत के लिए जरूरी आंकड़ा उपलब्ध है। कोई भी विधायक सरकार से बाहर नहीं है। उन्होंने कहा कि 90 विधायकों वाली विधानसभा में सरकार बनाने 47 विधायकों की अवश्यकता है। सत्तारूढ़ गठबंधन के इससे कहीं अधिक विधायकों का आंकड़ा उपलब्ध है। विपक्षी राजनीतिक दल मुद्दा विहीन होकर गलत बयान बाजियां कर रहे हैं।

Check Also

For refusing to marry, a mad lover shot the girl

शादी से इनकार करने पर सिरफिरे आशिक ने युवती को मार दी गोली

For refusing to marry, a mad lover shot the girl: एकतरफा प्‍यार में फरीदाबाद के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share
See our YouTube Channel