Home » ब्रेकिंग न्यूज़ » लोगों में हुई कंफ्यूजन क्रिएट, इस बीजेपी नेता को बना डाला विकास दुबे, सोशल मीडिया पर शेयर करने लगे फोटो

लोगों में हुई कंफ्यूजन क्रिएट, इस बीजेपी नेता को बना डाला विकास दुबे, सोशल मीडिया पर शेयर करने लगे फोटो

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश के कानपुर का गैंगस्टर विकास दुबे जिसने 8 पुलिसवालों की बेरहमी से जान ली वह अब मारा जा चुका है लेकिन क्या आप जानते हैं कि भीषण नरसंहार को जन्म देकर जबसे यह फरार हुआ था तबसे इसके साथ-साथ एक और विकास दुबे को अपराधी मानकर उसकी फोटो को सोशल मीडिया पर शेयर किया जाने लगा था।इस दूसरे वाले निर्दोष विकास दुबे जो कि एक बीजेपी नेता है की देश के गृहमंत्री अमित शाह, बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समेत भाजपा के कई बड़े नेताओं के साथ फोटोज को सोशल मीडिया पर यह लिखकर लोग शेयर करने लगे कि देखिये यह अपराधी विकास दुबे है और इसके सम्बंध यूपी के मुखिया योगी, गृहमंत्री अमित शाह और जेपी नड्डा के साथ हैं और इनका संरक्षण इसको प्राप्त है।

देखें फोटोज…जो होती रहीं वायरल

एक ही नाम, शहर और राजनीति में होने के चलते हुआ ऐसा…

दरअसल, अपराधी विकास दुबे के नाम जैसा नाम और शहर कानपुर के साथ इसका राजनीति में होना इस बीजेपी नेता को अपराधी बना रहा था।क्योंकि अपराधी विकास दुबे राजनीति में भी था और कानपुर का भी था।इसी कारण लोगों ने इसको दोषी विकास दुबे समझा और इसको सोशल मीडिया पर शेयर करना शुरू कर दिया।वहीं, जब इस विकास दुबे ने अपने बारे में ऐसा होते हुए देखा तो उसने तुरंत एक वीडियो जारी कर कहा कि उसे अपराधी बनाया जा रहा है वह और अपराधी विकास दुबे अलग-अलग हैं।उसका गैंगस्टर विकास दुबे और उसके गैंग से दूर दूर तक कोई सम्बन्ध नहीं है।हां ये जरूर है कि अपराधी का नाम भी विकास दुबे है और उसका भी नाम विकास दुबे ही है लेकिन इसका ये मतलब नहीं जाने न पहचाने उसे अपराधी बना दिया जाएगा।जो भी उसके नाम को और उसकी फोटो को अपराधी विकास दुबे की संज्ञा दे रहा है उसके खिलाफ वह मुकदमा दर्ज करवाएगा।

भारतीय जनता युवा मोर्चा के कानपुर-बुंदेलखंड क्षेत्र के अध्यक्ष हैं निर्दोष विकास दुबे…

निर्दोष विकास दुबे भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा कानपुर-बुंदेलखंड क्षेत्र के अध्यक्ष हैं।उनके अनुसार वह करीब पिछले 20 सालों से भाजपा को अपनी सेवा दे रहे हैं।इससे पहले वह कई अलग अलग पदों पर रह चुके हैं।वीडियो में देखिए क्या कह रहे हैं निर्दोष विकास दुबे…

गौरतलब है कि, उत्तर प्रदेश के कानपुर के बिकरु गांव में बीते 2 जुलाई की रात को पुलिस खूंखार अपराधी विकास दुबे को उसके घर पकड़ने पहुँची थी पर विकास दुबे गिरफ्तार नहीं होना चाहता था और उसने वो कर डाला जिसके बारे में पुलिस ने सपने में भी नहीं सोचा था।विकास दुबे और उसके गैंग ने पुलिस के लोगों को घेरकर उनपर जबरदस्त हमला बोल दिया था।विकास दुबे की तरफ से जमकर गोलीबारी की गई थी।जिसमें पुलिस के 8 लोग अपनी जान से हाथ धो बैठे थे।वहीं, इस क्रूर कृत्य को अंजाम देने के बाद वह और उसका गैंग तितर-बितर होकर फरार हो गया था।जहां, पुलिस घटना को अंजाम देने वाले विकास दुबे और उसके साथियों को तत्परता से ढूढ़ने में लग गई थी।इस दैरान पुलिस के हाथ गैंग के कई सदस्यों को गिरफ्तार किया तो कई का भागने के चक्कर में एनकाउंटर कर दिया गया जिसमें गैंग का मुखिया विकास दुबे भी शामिल है।

Check Also

नॉन-एचसीएस से आईएएस चयन प्रक्रिया में  कॉलेज प्रोफेसरो की योग्यता पर सवाल उठाया  

2010 में हूडा सरकार ने दिया क्लास वन का दर्जा, परंतु आज तक सेवा नियमो …

Share
See our YouTube Channel