गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुग्राम से की देशभर में स्टूडेंट पुलिस कैडेट कार्यक्रम की शुरूआत
Wednesday, December 19, 2018
Breaking News
Home » ब्रेकिंग न्यूज़ » गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुग्राम से की देशभर में स्टूडेंट पुलिस कैडेट कार्यक्रम की शुरूआत
गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुग्राम से की देशभर में स्टूडेंट पुलिस कैडेट कार्यक्रम की शुरूआत

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुग्राम से की देशभर में स्टूडेंट पुलिस कैडेट कार्यक्रम की शुरूआत

चंडीगढ़। केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने गुरुग्राम से देशभर में स्टूडेंट पुलिस कैडेट (एसपीसी) कार्यक्रम की शुरूआत करते हुए कहा कि यह कार्यक्रम शुरूआती चरण में देश में सभी शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों के सरकारी स्कूलों में लागू किया जाएगा जिसके लिए प्रत्येक स्कूल को 50 हज़ार रूपये की राशि शैक्षणिक सहायता, प्रशिक्षण और आकस्मिक खर्च के लिए उपलब्ध करवाई जाएगी। उन्होंने कहा कि इस साल यह कार्यक्रम देश के सभी राज्यों व केन्द्र शासित प्रदेशों में पॉयलेट आधार पर चलाया जाएगा। इस कार्यक्रम के शुरूआत समारोह के दौरान हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने कैडेटों को संबोधित करते हुए कहा कि इस कार्यक्रम में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने वाले कैडेट्स को भविष्य में हरियाणा पुलिस में होने वाली भर्ती में वरीयता दी जाएगी।

राजनाथ सिंह आज गुरुग्राम में एसपीसी कार्यक्रम के राष्ट्रीय लांच समारोह में बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। उन्होंने विद्यार्थियों में नैतिक मूल्य विकसित कर उन्हे अनुशासित बनाने पर जोर दिया ताकि बच्चे आगे चलकर नए भारत के निर्माण में अपना महत्वपूर्ण योगदान दे सकें। केन्द्रीय गृह मंत्री ने कहा कि इस कार्यक्रम के शुरूआत चरण के बाद इस कार्यक्रम को देश के सभी स्कूलों में शुरू किए जाने की योजना है। इस कार्यक्रम के क्रियान्वयन के लिए 67 करोड़ रूपये की राशि राज्यों को जारी की गई है। एसपीसी कार्यक्रम के माध्यम से समाज के हर व्यक्ति द्वारा कानून का पालन स्वैच्छा से करने पर बल देने के साथ साथ अपराध की रोकथाम और नियंत्रण सहित नैतिक मूल्यों पर ध्यान केन्द्रित किया गया है।

राजनाथ सिंह ने कार्यक्रम की लांचिंग को लेकर किए गए इंतजामों की सराहना करते हुए हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल को बधाई दी और कहा कि इसका उद्द्ेश्य स्कूल जाने वाले विद्यार्थियों में नैतिक मूल्यों का समावेश कर उन्हें जिम्मेदार, अनुशासित, संस्कारवान और चरित्रवान नागरिक बनाना है। साथ ही इससे स्कूलों में विद्यार्थियों और पुलिस के बीच सामंजस्य की शुरूआत होगी ताकि समाज में शान्ति और जनसुरक्षा के लिए नागरिकों का सहयोग लिया जा सके।

उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम से युवाओं में सामाजिक प्रतिबद्धता की भावना उत्पन्न होगी और वे अनुशासित होकर असहिष्णुता, नशा, अपराध और अन्य सामाजिक बुराइयों से दूर रह सकेंगे। उन्होंने उपस्थित कैडेट्स का आह्वान करते हुए कहा कि सभी पूरी लग्र के साथ इस कार्यक्रम का हिस्सा बने और भारत को एक नया समृद्ध और मजबूत राष्ट्र बनाने में अपनी अहम् भूमिका निभाएं। उन्होंने कहा कि यह कार्यक्रम पुलिस व जनता के बीच सौहार्दपूर्ण संबंध की मजबूत नींव स्थापित करेगा। इससे पुलिस विभाग को भी यह जानने में मदद मिलेगी कि युवाओं की पुलिस से क्या अपेक्षाएं हैं।

गृहमंत्री ने समारोह में टीवी, इंटरनेट व सोशल मीडिया के कारण बच्चों पर पड़ते दुष्प्रभाव का जिक्र करते हुए कहा कि इसका प्रभाव आज पूरे समाज पर पड़ रहा है जोकि चिंता का विषय है। ऐसे में हमें घर के साथ साथ स्कूलों में भी बच्चों को चरित्र निर्माण की शिक्षा देने की जरूरत है। बच्चों को किताबी ज्ञान के साथ उन्हें आदर्श नागरिक बनाने की दिशा में काम किए जाने की आवश्यकता है जिससे उनमें समाज के प्रति संवेदनशीलता उत्पन्न हो। इन्ही बातों को ध्यान में रखते हुए इस एसपीसी कार्यक्रम को आज राष्ट्रीय स्तर पर लांच किया गया है जोकि समाज व देश में सकारात्मक परिणाम लाएगा।

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने स्टूडेंट पुलिस कैडेट कार्यक्रम को समाज निर्माण की दिशा में मील का पत्थर बताते हुए कहा कि इस कार्यक्रम में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करने वाले कैडेट्स को भविष्य में हरियाणा पुलिस में होने वाली भर्ती में वरीयता दी जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share