अनिल शर्मा के सम्मान की चिंता हम करेंगे

अनिल शर्मा के सम्मान की चिंता हम करेंगे

अनिल शर्मा के सम्मान की चिंता हम करेंगे...मगर मंत्रीमंडल में स्थान फिलहाल संभव नहीं: जयराम ठाकुर

-बोले, उप चुनाव में कोई लहर नहीं हम इसे हल्के में नहीं लेंगे, इन चुनावों के बाद 2022 की तैयारी में जुटेंगे

वीरभद्र का सम्मान जितना मैं करता था उतना कांग्रेसी भी नहीं करते


विवेक अग्रवाल  मंडी।
मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने नाराज चल रहे भाजपा के विधायक अनिल शर्मा को स्पष्ट संकेत दिया है कि वे बिना किसी शर्त के पार्टी के उम्मीदवार के पक्ष में चुनाव प्रचार में जुट जाएं। पार्टी की ओर से उनके मान सम्मान का पूरा ख्याल रखा जाएगा। लेकिन फिलहाल उन्हें मंत्रीमंडल में शामिल नहीं किया जाएगा। यहां पत्रकारों से बातचीत के दौरान एक सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि अनिल शर्मा ने उनके समक्ष अपना पक्ष रखा है, तकनीकी रूप से वे भाजपा के विधायक हैं और भाजपा के प्रत्याशी के पक्ष में प्रचार से उन्हें कोई रोक नहीं सकता है। उन्होंने कहा कि अनिल शर्मा ने स्पष्ट किया कि कुछ लोग उनके बीच में फूट डालने की योजना में सफल रहे। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने अनिल शर्मा को स्पष्ट किया है कि उनके सम्मान की चिंता हम करेंगे । लेकिन फिलहाल मंत्री मंडल में कोई जगह खाली न होने की वजह से फिलहाल उन्हें शामिल नहीं किया जा सकता है। इस बारे पार्टी नेतृत्व से भी बात की जाएगी। उन्होंने कहा कि अनिल शर्मा ने एक दो दिन में निर्णय लेने की बात कही है। हमें भी उनके निर्णय का इंतजार रहेगा। वहीं पर कांग्रेस नेत्री आशा कुमारी के आरोप का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने कभी नहीं कहा कि प्रतिभा सिंह कमजोर प्रत्याशी है। अपने नामांकन के दौरान ही प्रतिभा सिंह ने कहा था कि उन्हें चुनाव लडऩे के लिए मजबूर किया गया। जयराम ठाकुर ने कहा कि महिलाओं के प्रति उनका नजरिया सम्मानजनक रहा है। उसी प्रकार वीरभद्र सिंह का जितना सम्मान मैं करता था उतना कांग्रेसी भी नहीं करते थे। उनकी पत्नी होने के नाते प्रतिभा सिंह का भी सम्मान करता रहा हूं। हालांकि, वीरभद्र सिंह से वैचारिक मतभेद रहे हैं। अब चुनाव में प्रतिभा सिंह दूसरी पार्टी से है तो उनकी पार्टी के विरोध में और उनके बयान का विरोध तो करना ही है। सांसद रामस्वरूप शर्मा की आत्महत्या के मामले की जांच के सवाल पर जयराम ठाकुर ने कहा कि इस मामले की दिल्ली में एफआईआर हुई है और दिल्ली पुलिस की क्राईम ब्रांच जांच कर रही है। वहीं पर महंगाई व बेरोजगारी के सवाल पर मुख्यमंत्री ने कहा कि हर चुनाव में महंगाई और बेरोजगारी दो मुददे रहते हैं। उन्होंने कहा कि क्या महंगाई कांग्रेस के शासन में नहीं थी। कांग्रेस के शासन में प्याज सौ रूपए किलो हो गया था। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी महंगाई को करने की दिशा में प्रयासरत हैं। वहीं पर हिमाचल प्रदेश में डिपुओं में मिलने वाले सरसों के तेल पर तीस रूपए प्रति लीटर की दर से सब्सिडी दी जा रही है। भाजपा में बगावत के सवाल पर जयराम ठाकुर ने कहा कि पार्टी में टिकट की मांग करना हर कार्यकर्ता का अधिकार है। लेकिन पार्टी की ओर से तय उम्मीदवार के पक्ष में सबको एकजुट हो जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि केवल जुब्बल कोटखाई में चेतन ब्रागटा पार्टी के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि अच्छा होता चेतन ब्रागटा भी साथ आ जाते। जयराम ठाकुर ने माना कि इन चुनावों में आम चुनावों की तरह कोई लहर नहीं है। 2019 में देशवासी नरेंद्र मोदी को दोबारा प्रधानमंत्री देखना चाहता था। जिसके चलते चारों सीटों पर पार्टी के उम्मीदवार चार लाख से अधिक मतों से जीते हैं। मगर उप चुनाव में मतदान प्रतिशत कम रहता है। उन्होंने कहा कि स्व. रामस्वरूप शर्मा ने मंडी को छोटी काशी के नाम से मशहूर किया है। उनकी कमी को महसूस किया जा रहा है। उन्होंने भाजपा प्रत्याशी ब्रिगेडियर  खुशाल की प्रशंसा करते हुए कहा कि वे एक जाबांज सैनिक हैं। जिनके नेतृत्व में उनकी ब्रिगेड ने सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण लेकिन दुर्गम चोटियों टाईगर हिल एवं तोलोलिंग से दुश्मन को मार भगाया एवं तिरंगा फहराया। जबकि कांग्रेस की प्रत्याशी कारगिल की लड़ाई को छोटा युद्ध बता रही है। जबकि इसमें हिमाचल के 52 जवान शहीद हुए हैं। इस अवसर पर भाजपा महामंत्री एवं विधायक राकेश जंवाल व जिला भाजपा अध्यक्ष रणवीर सिंह मौजूद रहे।


Comment As:

Comment (0)


shellindir ucuz fiyatlara garantili takipçiler Tiny php instagram followers antalya haberleri online beğeni al

>