Home » ब्रेकिंग न्यूज़ » केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्ष वर्धन ने बताया कब आ रही कोरोना वैक्सीन और सबसे पहले किसे लगाई जाएगी जानें

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्ष वर्धन ने बताया कब आ रही कोरोना वैक्सीन और सबसे पहले किसे लगाई जाएगी जानें

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने यहां वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए भारतीय उद्योग परिसंघ (सीआईआई) की राष्ट्रीय परिषद के साथ बातचीत में कहा कि सरकार ने मिशन इंद्रधनुष के तहत 12 बीमारियों से सुरक्षा लिहाज से बच्चों के टीकाकरण के लिए एक विस्तृत शीत गृह श्रृंखला के साथ अपनी प्रतिरक्षण क्षमता को बढ़ाया है। हर्षवर्धन के हवाले से एक विज्ञप्ति में बताया गया, ‘‘पूरे ईविन प्लेटफॉर्म को कोविन नेटवर्क के रूप में पुनर्निर्मित किया जा रहा है। भंडार एक जगह से दूसरी जगह ले जाने पर डिजिटल रूप से निगरानी रखी जा सकती है और टीके के दो शॉट देने की जरूरत पड़ी तो टीके प्राप्त करने वालों का दो से तीन सप्ताह के बाद भी पता लगाया जा सकता है। यह टीके की आखिरी जगह तक आपूर्ति सुनिश्चित करेगा।” हर्षवर्धन ने सार्वजनिक और निजी क्षेत्रों के बीच सहयोग के प्रमाण के रूप में कोविड-19 सेभारत के मुकाबले का भी उल्लेख किया। उन्होंने कहा, “हमारा राष्ट्र अब व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) किट के सबसे बड़े निर्माताओं में से एक बन गया है। हम कुछ साल पहले परीक्षण के लिए नमूने सीडीसी अटलांटा में भेजते थे, जबकि अब हमारे पास देश की कुल परीक्षण क्षमता में योगदान देने वाली निजी परीक्षण प्रयोगशालाएं हैं।”

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने बताया कि वैक्‍सीन के क्षेत्र में हम तेजी से काम कर रहे हैं। भारत वैक्‍सीन को बनाने में विश्‍व के किसी भी देश से पीछे नहीं हैं। अगले साल 2021 की शुरुआत में भारत में वैक्सीन लोगों के लिए उपलब्ध हो जाएगी। साथ ही उन्‍होंने बताया कि कोरोना वैक्‍सीन जब बनकर तैयार हो जाएगी, तो सबसे पहले स्वास्थ्यकर्मियों और बुगुर्गों (65 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों) को प्राथमिकता दी जाएगी।

हर्षवर्धन ने कहा कि अगले साल जुलाई-अगस्त तक 40-50 करोड़ खुराक उपलब्ध होंगी। इनके वितरण की भी पूरी रूपरेखा तैयार कर ली गई है। उन्होंने कहा, ‘मौजूदा हालात और वायरस की मारक क्षमता को देखते यह निर्णय लिया गया है कि सबसे पहले स्वास्थ्य कर्मी यानि कोरोना वॉरियर्स को टीका दिया जाएगा। इसके बाद 65 साल से अधिक आयु के लोगों को प्राथमिकता दी जाएगी। फिर 50-65 साल की आयु वाले लोगों को वैक्‍सीन दी जाएगी।’

Check Also

लोगों की सुविधा के लिए आरोग्य सेतु और CoWin में जोड़े जा सकते हैं ये चार फीचर

करोड़ों लोगों ने रजिस्ट्रेशन भी करा लिया है लेकिन वैक्सीन के लिए लोगों को खाली …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share
See our YouTube Channel