Breaking News
Home » Photo Feature » लावारिस पशुओं ने सड़क पर घेराबंदी कर लोगों के लिए खड़ी कीं मुश्किलें

लावारिस पशुओं ने सड़क पर घेराबंदी कर लोगों के लिए खड़ी कीं मुश्किलें

कालका : स्थानीय कराड़ी मुहल्ला को सड़क मार्ग से जोडऩे वाले सार्वजनिक रास्ते को लावारिस पशुओं ने घेराबंदी करके लोगों के लिये मुश्किलें खड़ी कर रखी हैं।बेलगाम इन लावारिस पशुओं को देख कर प्रशासन की पोल खुल रही है कि लावारिस पशु किस कदर शहर पर हावी हो रहे हैं। इस सार्वजनिक रास्ते के बीच अकसर सफाई कर्मचारी इर्द गिर्द से इक्टठा किया हुया कचरा व गंदगी ढ़ेरी कर देते हैं जो कि रोज की बात है। इस के अलावा सड़क मार्ग पर कई दुकानदार भी कचरा यहां गिरा जाते हैं।

लावारिस पशु अपनी भूख मिटाने के लिये इस स्थल पर पहुंच जाते हैं और पूरे रास्ते की घेराबंदी कर लेते हैं। आम लोगों का राह गुजर मुश्किल बन जाता है। अगर कोई व्यक्ति इन्हे खदेडऩे की कोशिश करता है तो ये लावारिस पशु उसे ही सींग दिखाने लग पड़ते हैं। ऐसे में कोई जोखिम उठाने की हिम्मत नही करता और प्रशासन को कोसने को मजबूर हो उठता है।

कराड़ी मुहल्ला के साथ दो धार्मिक स्थल जुड़े हुये हैं। एक राधा कृष्ण मंदिर और थोड़ा आगे सेन्ट्रल गुरूद्वारा। सुबह और शाम श्रद्धालु और आम लोग इस मार्ग पर से गुजरते हैं और परेशान देखे जाते हैं। आम लोगों की मांग है कि इस सार्वजनिक रास्ते पर गंदगी न गिरायी जाये और जो दुकानदार सब्जी विक्रेता, मिश्ठान भण्डार अथवा रेस्टोरेन्ट वाले इस स्थल पर अपनी दुकानों की गंदगी बिखेर जाते हैं, उन पर सख्ती की जाये।

ह्यूमन वैल्फेयर आर्गेनाइजेशन के एडवाईजर मास्टर ओम प्रकाश के अनुसार पिछले लम्बे समय से शहर में लावारिस पशुओं की पकड़ न के बराबर हुयी है। लावारिस पशुओं को पकड़े जाने के न चलाये गये अभियान के दृष्टिगत शहर में लावारिस पशुओं की बहुत्यात आम लोगों व शहरवासियों के लिये सिरदर्द वाली बात बनी हुयी है। देखने में यह भी है कि लावारिस पशु अकसर सड़कों पर पसर जाते हैं और वाहनों के गुजरने और पैदल चलने वालों के लिये परेशानी खड़ी कर देते हैं। आम लोगों खासकर कराड़ी मुहल्ला के लोगों की मांग है कि जनहित में इस गारबेज के स्थल को यहां से स्थानांतरित किया जाये।
प्रस्तुति : जग्गी

Check Also

जल मल योजना को नगर निगम के हवाले करने के खिलाफ कर्मचारी सड़कों पर उतरे

मुख्यमंत्री मनोहरलाल के नाम ज्ञापन सौंपा तहसीलदार को करनाल। पीडब्लूडी विभाग बचाओ संघर्ष समिति के …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share
See our YouTube Channel