Home » ब्रेकिंग न्यूज़ » हरियाणा के मुख्य सचिव डीएस ढेसी की माता सावित्री देवी का निधन, मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर सहित कई गणमान्यों ने की पुष्पांजलि अर्पित

हरियाणा के मुख्य सचिव डीएस ढेसी की माता सावित्री देवी का निधन, मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर सहित कई गणमान्यों ने की पुष्पांजलि अर्पित

चंडीगढ़। हरियाणा के मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने हरियाणा के मुख्य सचिव श्री डीएस ढेसी की माता श्रीमती सावित्री देवी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। वे 90 वर्ष की थी। वे पिछले कुछ दिनों से बीमार चल रही थी। वे अपने पीछे पति डॉ. अवतार सिंह, बेटा व बेटी समेत भरा-पूरा परिवार छोड़ गई हैं।

आज यहां जारी एक शोक संदेश में मुख्यमंत्री ने श्रीमती सावित्री देवी को एक धार्मिक प्रवृति की महिला बताया जो सदैव सामाजिक कार्यों में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेती थी। मुख्यमंत्री ने शोक संतप्त परिवार के सदस्यों के प्रति हार्दिक संवेदना जताई है और दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। सूचना, जनसंपर्क एवं भाषा विभाग के प्रधान सचिव  राजेश खुल्लर, महानिदेशक समीर पाल सरो ने भी श्रीमती सावित्री देवी के निधन पर शोक व्यक्त किया है।

हरियाणा के मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने कहा कि मां की ममता और महिमा अपरम्पार होती है। मां ही सृष्टि की रचयिता एवं राष्ट्र के विकास की असली धुरी होती है। मां का स्थान कोई नहीं ले सकता। मां सबको साथ लेकर परिवार एवं समाज का भला करते हुए आगे बढ़ाने की सदैव प्रेरणा देती है। बच्चे की पहली गुरुमां ही होती है।मुख्यमंत्री  मनोहर लाल ने उक्त विचार आज शिक्षा मंत्री प्रो. रामबिलास शर्मा की मां गिंदोड़ी देवी के निधन पर महेंद्रगढ़ के गांव राठीवास में उनके चित्र पर पुष्पार्पित कर श्रद्धांजलि देते हुए व्यक्त किए।

उन्होंने कहा कि श्रीमती गिंदोड़ी देवी से मुझे कई बार मिलने का सौभाग्य प्राप्त हुआ था और उनका आशीर्वाद लिया था। वे धार्मिक, सामाजिक, प्रेरणादायक एवं सकारात्मक विचारों की धनी थी। मां की कमी को कोई पूरा नहीं कर सकता।मुख्यमंत्री ने शिक्षा मंत्री प्रो. रामबिलास शर्मा को ढांढस बंधाते हुए कहा कि धन्य हैं मां गिंदोड़ी देवी जिन्होंने 97 वर्ष तक जिन्दा रह कर प्रो. रामबिलास शर्मा को सामाजिक एवं राजनैतिक क्षेत्र में प्रेरणा एवं आशीर्वाद देकर इस मुकाम पर पहुंचाया। वे अपने पीछे भरा-पूरा परिवार छोड़ कर गई हैं।

मनोहर लाल ने परमपिता परमात्मा से दिवंगत आत्मा को अपने चरणों में स्थान देने की प्रार्थना की।इस अवसर पर शिक्षा मंत्री  रामबिलास शर्मा ने मुख्यमंत्री  मनोहर लाल से बातचीत के दौरान कहा कि माता जी मेरे लिए प्रेरणास्त्रोत थी तथा उन्हीं के आशीर्वाद से मैं आज इस मुकाम पर पहुंचा हूँ ।

Check Also

चंडीगढ़: व्यापारी मिले आबकारी एवं कराधान अधिकारी से

चंडीगढ़। व्यापारियों के एक शिष्टमंडल ने बुधवार को आबकारी एवं कराधान अधिकारी आर.के. चौधरी से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share
See our YouTube Channel