Home » ब्रेकिंग न्यूज़ » दिल्ली में अब ‘किसान संसद’, जंतर-मंतर पर जुटेंगे आंदोलनकारी… जगह-जगह कड़ी सुरक्षा व्यवस्था
farmer Protesters Jantar Mantar
farmer Protesters Jantar Mantar

दिल्ली में अब ‘किसान संसद’, जंतर-मंतर पर जुटेंगे आंदोलनकारी… जगह-जगह कड़ी सुरक्षा व्यवस्था

farmer Protesters Jantar Mantar: केंद्र की मोदी सरकार द्वारा लाये गए तीन नए कृषि कानूनों पर उपजा किसान आंदोलन अभी समाप्त नहीं हुआ है| 7 महीने से ज्यादा का समय हो गया है और किसान आंदोलन ज्यों का त्यों बरकरार है व समय-समय पर केंद्र की मोदी सरकार को घेरने में जुटा हुआ है और याद दिला रहा है कि तीन नए कृषि कानूनों पर किसान आंदोलन पीछे नहीं हटा है| इन्हें वापिस लेना ही होगा|

फिलहाल, इन दिनों जब संसद में मानसून सत्र चल रहा है तो आंदोलनकारी किसान फिर से अपनी आवाज उठा रहे हैं| तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलनकारी किसान संसद में हल्ला बोलना चाहते हैं लेकिन सुरक्षा कारणों से इस तरह की इजाजत नहीं दी जा रही है और आंदोलनकारी किसानों से जंतर-मंतर पर प्रदर्शन करने को कहा गया है| जहां वीरवार यानि आज आंदोलनकारी किसान जंतर-मंतर (farmer Protesters Jantar Mantar) पर जुटेंगे और जोरदार प्रदर्शन करेंगें| इसे आंदोलनकारी किसानों की तरफ से ‘किसान संसद’ नाम दिया गया है| क्योंकि जंतर-मंतर पर प्रदर्शन तो होगा ही साथ ही गहरी चर्चा भी होगी| बतादें कि, इस प्रदर्शन में किसान आंदोलन का मुख्य चेहरा बन रखे किसान नेता राकेश टिकैत भी शामिल रहेंगे| बताया जाता है कि, जंतर-मंतर पर आंदोलनकारी किसान सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक जुटेंगे|

क्या बोले राकेश टिकैत…..

किसान नेता राकेश टिकैत का कहना है कि मोदी सरकार को तीन नए कृषि कानूनों वापिस करना ही होगा| हमारी बात माननी होगी| हम मनवाकर रहेगें| जंतर-मंतर पर जुटने को लेकर टिकैत ने कहा कि हम यहाँ किसान संसद लगाएंगे और पंचायत करेंगे। यह सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक चलेगा। वहीं, किसान नेता प्रेम सिंह भंगू ने कहा, ”हम वहां विस्तार से चर्चा करेंगे, हम स्पीकर भी बनाएंगे, चर्चा होगी और प्रश्नकाल भी होगा।

यूपी में जाने की तैयारी….

आंदोलनकारी किसानों का अगला पड़ाव उत्‍तर प्रदेश होगा। अगले साल यूपी में चुनाव है, उससे पहले बीजेपी को आइसोलेट करने की कोशिश होगी। सिंघु बॉर्डर पर मौजूद एक किसान नेता प्रेम सिंह भांगू ने न्‍यूज एजेंसी ANI से कहा, “हमारा यूपी मिशन 5 सितंबर से शुरू होगा। हम बीजेपी को पूरी तरह आइसोलेट करेंगे। तीन कृषि कानूनों को वापस लेने के सिवाय कोई विकल्‍प नहीं है। हम बातचीत के लिए तैयार हैं।”

दिल्ली में जगह-जगह तगड़ी है सुरक्षा व्‍यवस्‍था….. खासकर सिंघु बॉर्डर और जंतर मंतर पर….

किसानों के मूवमेंट को देखते हुए सिंघु बॉर्डर पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है। दरअसल,, यहां से ही आंदोलनकारी किसान जंतर मंतर का रुख करेंगे।DCP बाहरी ज़िला दिल्ली का कहना है कि किसानों के प्रदर्शन को ध्यान में रखकर टिकरी बॉर्डर पर प्रतिबंध की व्यवस्था की गई है| सिर्फ सिंघु बॉर्डर से आने जाने की अनुमति है। टिकरी बॉर्डर से किसानों के प्रदर्शन से संबंधित आवाजाही की अनुमति नहीं है। बाकी अन्य तरह की आवाजाही पर रोक नहीं है|

यह भी पढ़ें- चंडीगढ़ में आतंक: शख्स को पहले घेरा, रुकने पर निकाली चाकू…और फिर दे गए ऐसी घटना को अंजाम

 

Check Also

Disha Patani enjoys

Disha Patani enjoys: दिशा पाटनी ने पिंक बिकिनी पहन समंदर में यूं किया एंजॉय

Disha Patani enjoys: बॉलीवुड अभिनेता टाइगर श्रॉफ की कथित गर्लफ्रेंड दिशा पाटनी ने अपने लुक्स …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share
See our YouTube Channel