Breaking News
Home » हेल्थ » तेज धूप की वजह से हो सकती है आपको सन प्वाइजनिंग

तेज धूप की वजह से हो सकती है आपको सन प्वाइजनिंग

गर्मियों में धूप में अधिक देर तक बाहर रहने के कारण स्किन झुलझने के बारे में आपने अक्सर सुना होगा। गर्मियों में सनबर्न और टैनिंग बहुत ही आम समस्या है लेकिन क्या आपने कभी सन प्वाइजनिंग के बारे में सुना है। यह एक तरह का सनबर्न ही है लेकिन यह इसका सबसे गंभीर रूप होता है जो न केवल दर्दनाक होता है बल्किन स्किन और शरीर के अन्य हिस्सों के लिए काफी खतरनाक भी हो सकता है।

आपको सन प्वाइजनिंग के संकेत पहचानने के तुरंत बाद डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। अगर आप सोच रहे हैं कि आपको इसके लक्षणों के बारे में कैसे पता चलेगा तो आपको बता दें कि आप खुद ही इन्हें आसानी से समझ सकते हैं।

सन प्वाइजनिंग के लक्षण

यदि आपकी त्वचा पर सनबर्न हो गया है और यह अब तेजी से बढ़ रहा है तो आपको तुरंत अपने डॉक्टर से संपर्क करने की जरूरत है। इससे बचाव के लिए आप अपने शरीर का तापमान सामान्य बनाए रखें। वयस्कों के शरीर का सामान्य तापमान 97 से 99 डिग्री फेरेनाइट के बीच होता है। वहीं बच्चों का सामान्य तापमान आमतौर पर 97।9 से 100।4 के बीच होता है। अगर आपके शरीर का तापमान काफी अधिक कम है और आपको फ्लू जैसे लक्षण दिखने लग रहे हैं। या अगर आपको ठंडा पसीना आ रहा है और कपकपी फील हो रही है तो ये सब सन प्वाइजिंग के संकेत हैं।

सन प्वाइजनिंग के कारण आपके शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स की मात्रा कम हो जाती है जिस कारण आपको फ्लू के लक्षण नजर आने लगते हैं। आपको घबराहट जैसा भी महसूस हो सकता है।

इतना ही नहीं सन बर्न बढऩे से व्यक्ति के अंदर उलझन बढऩे लगती है, बेहोशी सी छाने लगती है, तेज ठंड लगने लगती है और मिचली के साथ उल्टी भी आने लगती है। शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स का कम होना इसका बहुत गंभीर संकेत होता है क्योंकि इसकी कमी से आपको कमजोरी महसूस होने लगती है।

सन प्वाइजनिंग अगर स्किन पर बढ़ती जाती है तो इससे संक्रमण का खतरा भी बढ़ जाता है। सन प्वाइजनिंग की वजह से स्किन इंफेक्शन होने का खतरा बढ़ सकता है और स्किन में मवाद या पानी भरने के भी चांसेज रहते हैं।

स्किन प्वाइजनिंग से बचने के लिए करें ये काम

सनबर्न या सन प्वाइजनिंग से बचने का सबसे पहला कारगर उपाय है कि आप तेज धूप में न जाएं। या जब भी आपको धूप में निकलना हो तो आप घर से निकलने से करीब 30 मिनट पहले सनस्क्रीन लगा लें और खूब सारा पानी पीके ही निकलें।

सनस्क्रीन का एसपीएफ 30 या इससे ऊपर होना चाहिए। जब भी धूप में निकलें कॉटन के कपड़े पहनें। अपने शरीर को पूरा ढक कर रखें, सन एक्सपोज से खुद को बचाए रखने की कोशिश करें।

Check Also

सुबह की कसरत जितना ही लाभकारी है शाम का व्यायाम, बढ़ाता है ऊर्जा का व्यय

लोकप्रिय धारणा के विपरीत, शोधकर्ताओं ने पाया है कि शाम का व्यायाम सुबह की कसरत …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share
See our YouTube Channel