Home » हरियाणा » संसाधनों की कमी के कारण शहर में सफाई व्यवस्था ठप

संसाधनों की कमी के कारण शहर में सफाई व्यवस्था ठप

नप ने उच्च अधिकारियोंं को भेजा संसाधनों का मांग पत्र, 180 सफाई कर्मी चाहिए

नरवाना। नगर परिषद नरवाना के पास सफाई व्यवस्था को लेकर पर्याप्त संसाधन नहीं हैं। जिसके कारण शहर में सफाई व्यवस्था लगभग ठप्प रहती है और शहरवासियों को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। वाहनों की कमी के कारण नगर परिषद शहर के कूड़ा दानों क ो समय पर खाली नहीं कर पाती है। वहीं नगर पालिका अधिनियम के तहत 400 लोगों पर एक सफाई कर्मचारी होना अनिवार्य है। लेकिन नरवाना में लगभग 600 लोगों पर एक सफाई कर्मचारी कर रहा है। जिस कारण गली मोहल्ले की सफाई भी सही तरीके से नहीं हो रही है। इस समस्याओं को लेकर नगर परिषद के अधिकारियों को शहरवासियों के रोष का सामना भी करना पड़ता है। इसलिए नगर परिषद ने अपना मांग पत्र उच्च अधिकारियों को भेजा गया है। जिसमें नरवाना नगर परिषद मेें संसाधनों के अभाव को पूरा करने की मांग की गई है। अधिकारियों ने कहा कि कर्मचारी व संसाधनों की कमी के कारण ही लोगों कीे समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है। विभाग से मिली जानकारी के अनुसार नगर परिषद में 180 सफाई कर्मचारी होने पर ही गली मोहल्ले की सफाई व्यवस्था सही रह सकती है। जबकि फिलहाल 121 कर्मचारी ही कार्यरत है। जिसमें 57 पक्के व 64 कच्चे कर्मचारी हैं।

ये रखी मांगें : नगर परिषद से मिली जानकारी के अनुसार उन्होंने मांग पत्र में 4 टै्रक्टर, एक जेसीबी व कुल 180 कर्मचारियों को भर्ती करने की मांग की गई है। गौरतलब है कि इस समय नगर परिषद के पास सिर्फ एक ट्रैक्टर ट्राली व एक कुडादान उठाने वाला वाहन है। इसके अलावा नगर परिषद द्वारा कूडा डालने के लिए जगह की मांग भी उच्च अधिकारियों को भेजी है।

संसाधनों व कर्मचारियों की कमी को लेकर उच्च अधिकारियों को मांग पत्र लिखा गया है। जिस पर आचार संहिता के कारण टैंडर नहीं हो पाए हैं। कर्मचारी व संसाधनों की कमी पूरी हो जाने के बाद शहरवासियों को सफाई सम्बंधी समस्याओं का सामना नहीं करना पडेगा। नगर परिषद शहर की सफाई व्यवस्था को लेकर गंभीर है।
छवी बंसल, चेयरपर्सन नगर परिषद नरवाना।

Check Also

सदैव राष्ट्र का हिस्सा बन अटल जी अशरीरी रूप से देश के प्रगति पथ को आलोकित करते रहेंगे: गहलावत

चेयरपर्सन व कार्यकर्ताओं ने वाजपेयी की फोटो पर पुष्पांजलि कर उन्हें दी श्रद्धांजलि राई। पूर्व …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share
See our YouTube Channel