Home » ब्रेकिंग न्यूज़ » डॉक्टर बना शैतान, मगरमच्छों के लिए करता था खाने का इंतजाम, बोला- याद नहीं कितने लोगों को खिलाया

डॉक्टर बना शैतान, मगरमच्छों के लिए करता था खाने का इंतजाम, बोला- याद नहीं कितने लोगों को खिलाया

नई दिल्ली: डॉक्टर को लोग भगवान की संज्ञा देते हैं क्योंकि वह जान बचाता है लेकिन जब वही डॉक्टर जान लेने पर आमादा हो जाये फिर तो उसे शैतान ही कहा जाएगा।आज हम आपको एक ऐसे ही डॉक्टर के बारे में बताने जा रहे हैं जिसने लोगों की जान बचाने की बजाय उनकी जान ली और बन गया एक शैतान डॉक्टर।इस शैतान डॉक्टर के मुताबिक, उसने कई मर्डर किये।वह 50 मर्डर के बाद गिनती ही भूल गया था कि उसने और कितने मर्डर किये और कर रहा है।लेकिन उसने माना कि मोटे तौर पर वह अबतक लगभग 100 लोगों की जान ले चुका होगा।

शवों को मगरमच्छों को खिलाता था…

शैतान डॉक्टर के अनुसार, उसने एक नहर ढूढ़ रखी थी जिसमे कई सारे मगरमच्छ थे।बस वह लोगों को मारकर इसी नहर में मगरमच्छों को खाने के लिए फेक जाया करता था।जिससे सबूत का सबूत मिट जाया करता था और मगरमच्छों का पेट भी भर जाया करता था।शैतान डॉक्टर बताता है कि उसने जितने भी लोगों को मारा उनमे से ज्यादातर लोगों को उसने मगरमच्छों को खिलाया।

क्यों और किस प्रकार किये इतने मर्डर…

1- फर्जी गैस एजेंसी खोल रखी थी…

इस शैतान डॉक्टर ने एक फर्जी गैस एजेंसी खोल रखी थी।जिसे चलाने के लिए उसे सिलेंडरों की आवश्यकता होती थी जो उसे वैसे तो मिलने से रहे क्योंकि वह फर्जी गैस एजेंसी चला रहा था।इसलिए वह सिलेंडरों से लदे ट्रकों को लूट लेता था।यह काम वह अपने गैंग के साथ मिलकर करता था।इस शैतान डॉक्टर ने जितने भी सिलेंडर से भरे ट्रक लूटे उन सभी ट्रक ड्राइवरों को उसने मौत के घाट उतार दिया और ट्रकों को ठिकाने लगाकर सिलेंडर अपने कब्जे में कर लिए।

2- किडनी रैकेट में हो गया शामिल…

यह शैतान डॉक्टर फर्जी गैस एजेंसी चलाने के साथ
एक किडनी रैकेट भी शामिल हो गया।यह रैकेट लोगों को किडनैप कर या किसी जाल में फंसाकर उनकी किडनी निकालने का काम करता था।इस शैतान डॉक्टर ने यहाँ पर सात लाख प्रति ट्रांसप्लांट के हिसाब से 125 किडनी ट्रांसप्लांट करवाईं।

3- कैब ड्राइवर्स को मार लूट लेता था उनकी गाड़ी..

इस शैतान डॉक्टर के कहने पर इसके लोग कैब ड्राइवर्स को मारकर उनकी गाड़ी लूट लेते थे।यह कहीं जाने के लिए कैब बुक करते थे और सुनसान जगह देखकर कैब ड्राइवर का काम तमाम कर देते थे और शव को मगरमच्छों वाली नहर में डाल देते थे।और उसकी गाड़ी को कुछ दिन यूज़ करने के बाद उसे जालसाजी से बेच दिया करते थे।

पाप का घड़ा भरा और पकड़ा गया..

आखिरकार, इस शैतान डॉक्टर के पापों का घड़ा भर चुका था।इसे पुलिस ने 2004 में पकड़ लिया।जिसके बाद इसे कोर्ट में पेश किया गया और कोर्ट ने इसे इसके क्रूर कृत्यों के लिए 16 साल की सजा सुनाई।इस शैतान डॉक्टर ने जहां बाहर रहते बड़े गंदे काम किये वहीं इसने जेल में रहते बड़े अच्छे काम किये यानी अच्छा बर्ताव रखा।जहां यह देखकर इसे जनवरी 2020 में 20 दिन की पैरोल पर जेल से बाहर निकाला गया।लेकिन लगता है जेल में रहते जो यह अच्छा बर्ताव कर रहा था वो सब इसकी चाल थी।यह शैतान डॉक्टर 20 दिन बाद वापस जेल नहीं गया और भाग गया।यह
अंडरग्राउंड हो गया।

ज्यादा दिन छिप न सका और फिर पकड़ा गया…

पुलिस इसे दोबारा पकड़ने में कामयाब रही।यह दिल्ली
में गुप्त जगह पर छिपकर रह रहा था और यहाँ रहकर वह एक बिजनसमैन को चूना लगाने वाला था लेकिन समय रहते पुलिस को इसके बारे में जानाकरी मिल गई और इसे पकड़ लिया गया।पुलिस ने अभी हाल ही में शैतान डॉक्टर को गिरफ्तार किया है।

शैतान डॉक्टर कहता है…

शैतान डॉक्टर कहता है कि साल 1984 में उसने आर्युवेदिक मेडिसिन में अपनी ग्रेजुएशन पूरी करके राजस्थान में एक क्लीनिक खोला।कलीनिक चलाते चलाते 1994 में उसने गैस एजेंसी के लिए एक कंपनी में 11 लाख का निवेश किया लेकिन उसका साथ धोखा हो गया।कंपनी फ्रॉड निकली।कंपनी अचानक गायब हो गई।उसे लंबा नुकसान हुआ और गैस एजेंसी खोलने का सपना भी उसका पूरा नहीं हुआ।इसलिए उसने 1995 में फर्जी गैस एजेंसी खोल ली और तबसे उसने काले कारनामे करने शुरू कर दिए।

Check Also

किसान विरोधी कानूनों के लिए अदालत में जाएंगे

कैप्टन का बड़ा बयान : किसान विरोधी कानूनों के लिए अदालत में जाएंगे

चंडीगढ़। राज्य के किसानों के हितों की रक्षा के लिए अपने आखिरी दम तक लडऩे …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share
See our YouTube Channel