जब पैंट उतारकर सिर्फ अंडरवियर पहन मेट्रो में पहुंचे महिला-पुरुष - Arth Parkash
Tuesday, February 19, 2019
Breaking News
Home » Photo Feature » जब पैंट उतारकर सिर्फ अंडरवियर पहन मेट्रो में पहुंचे महिला-पुरुष
जब पैंट उतारकर सिर्फ अंडरवियर पहन मेट्रो में पहुंचे महिला-पुरुष

जब पैंट उतारकर सिर्फ अंडरवियर पहन मेट्रो में पहुंचे महिला-पुरुष

कड़ाके की इस ठंड में शीत लहर की मार से बचने के लिए लोग या तो गर्म कपड़े पहनकर खुद को सर्दी से बचा रहे हैं या फिर आग के आस-पास बैठकर गर्मी ले रहे हैं। लेकिन क्या हो जब अचानक से हर कोई अपनी पैंट, स्कर्ट और ट्राउजर उतार दें और पूरे दिन ऐसे ही रहकर अपना काम करें… ये सब पढ़कर आपको अटपटा लग रहा होगा लेकिन ऐसा ही नजारा सच में देखने को मिला है। जिसकी तस्वीरें सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही हैं।

दरअसल, अमेरिका के न्यूयॉर्क में कंपकंपाती ठंड के बावजूद लोग मेट्रो में बिना पैंट, ट्राउजर और स्कर्ट के नजर आए। चौंकिए मत, ऐसा नजारा आजकल मेक्सिको, न्यूयॉर्क, वाशिंगटन सहित कई शहरों में खुलेआम देखने को मिल रहा है। आप सोच रहे होंगे कि आखिर इन लोगों ने पैंट क्यों नहीं पहनी हैं? बता दें कि मेक्सिको, न्यूयॉर्क, वाशिंगटन, शिकागो, बर्लिन और प्राग सहित दुनिया के 60 से ज्यादा शहरों में इन दिनों ‘नो पैंट सबवे राइड’ मनाया जा रहा है। इस इवेंट में लोग बिना पैंट पहने मेट्रो में सफर कर रहे हैं। ‘नो पैंट सबवे राइड’ के आयोजकों का कहना है कि यह इवेंट दुनिया के कई शहरों में मनाया जाता है। लोगों को इस इवेंट में भाग लेने के लिए मेट्रो में बिना पैंट पहने सफर करना होता है।

हालांकि यह इवेंट उन लोगों के लिए भी काफी रोमांचक होता है, जो इस इवेंट में हिस्सा नहीं लेते हैं। आपको बता दें, इस दौरान न्यूयॉर्क का तापमान शून्य से आठ डिग्री नीचे था लेकिन लोगों ने ठंड की परवाह किए बिना इसको सेलिब्रेट किया। ‘नो पैंट सबवे राइड’ इवेंट की शुरुआत सबसे पहले 12 जनवरी, 2002 को न्यूयॉर्क में हुई थी। ‘इवप्रोव’ नाम के मशहूर थिएटर ग्रुप ने इसे शुरू किया था। इस समूह के 7 लोगों ने न्यूयॉर्क में नो पैंट्स सबवे राइड मनाया, जिसे बाद में दुनिया के अन्य शहरों में भी मनाया जाने लगा।

ऐसा नहीं है कि यह बेहद आसान है। साल 2006 में न्यूयॉर्क में करीब 150 लोगों ने इस इवेंट में हिस्सा लिया। पुलिस ने इस दौरान आठ लोगों को अव्यवस्था फैलाने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया था। साल 2014 में ‘नो पैंट्स सबवे राइड’ इवेंट में अमेरिका, स्पेन, चीन और लंदन में लोगों ने एक दिन बिना पैंट्स के सिर्फ अंडरवियर में गुजारा। यह इवेंट अब दुनिया के 25 से ज्यादा देशों के 60 शहरों तक पहुंच चुका है। ‘नो पैंट्स सबवे राइड डे’ के तहत पैसेंजर बिना पैंट पहने अलग-अलग स्टेशन से मेट्रो में चढ़ते हैं।

इस इवेंट का मकसद जानकर आपको हंसी आ जाएगी। दरअसल, इसका मकसद कोई बहुत बड़ा जनकल्याण का नहीं है लेकिन इसका कारण लोगों की जिंदगी से जुड़ा हुआ है। इस इवेंट में जब लोग अपने बीच सिर्फ अंडरवियर पहने लोगों को देखते हैं तो बेहद चौंक जाते हैं और उसके बाद जब उन्हें मामला समझ आता है तो हंसने लगते हैं। कभी-कभी ऐसा भी होता है जब कुछ लोग बीच मेट्रो में ही पैंट उतारकर इस आयोजन का हिस्सा बन जाते हैं। हालांकि भीड़-भाड़ वाली जगहों पर ऐसा करने में काफी दिक्कत आती है।

दरअसल इस इवेंट का मकसद ही लोगों को उनकी तनाव भरी जिंदगी के बीच हंसाना है। बस इसी मकसद से लोगों के चेहरों पर मुस्कुराहट लाने के लिए, लोगों की जिंदगी से तनाव को कम करने के लिए इस इवेंट की शुरुआत की गई थी। कभी-कभी भीड़ को देखकर कोई शख्स वहां सभी के सामने अपनी पैंट उतार देता है इसे देखकर भी लोगों की हंसी छूट जाती है। इसका मूल मकसद लोगों को हंसाना ही है। धीरे-धीरे इस आयोजन को लेकर लोगों में काफी क्रक्रेज देखने को मिल रहा है। बीते रविवार को 2000 से भी ज्यादा लोगों ने ‘नो पैंट्स सबवे राइड’ में हिस्सा लिया। न्यूयॉर्क में शून्य से आठ डिग्री नीचे रहे तापमान में लोगों ने बिना पैंट पहने मेट्रो में सफर किया। इस इवेंट के फोटो और वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहे हैं। टोरंटो में ‘नो पैंट्स सोसाइटी’ के कैप्टन पैडी जेन मुस्कुराते हुए बताते हैं कि यह वाकई एक बेहतरीन समय होता है। हम बस इतना चाहते हैं कि लोग खुले विचारों से जिएं और पैंट की जेल से बाहर निकलें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share