चंडीगढ़: शहर की पूर्व मेयर ने दिखाई दबंगई! - Arth Parkash
Thursday, March 21, 2019
Breaking News
Home » Photo Feature » चंडीगढ़: शहर की पूर्व मेयर ने दिखाई दबंगई!
चंडीगढ़: शहर की पूर्व मेयर ने दिखाई दबंगई!

चंडीगढ़: शहर की पूर्व मेयर ने दिखाई दबंगई!

चंडीगढ़। चंडीगढ़ कांग्रेस भवन में गत शुक्रवार को शुरू किया गया पूर्व मेयर एवं कांग्रेस की वरिष्ठ नेता पूनम शर्मा का धरना आज दोपहर बाद समाप्त हो गया। काबिलेजिक्र है कि अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के उपलक्ष्य में गत शुक्रवार को शहर से कांग्रेस के टिकटार्थी डॉ. नवजोत कौर सिद्धू द्वारा महिला दिवस का आयोजन किया जाना था। उसी के लिए डॉ. नवजोत कौर के साथ चंडीगढ़ की पूर्व मेयर एवं कांग्रेस की तेज तर्रार नेता श्रीमती पूनम शर्मा भी अपनी सहेलियों के साथ इसमें शामिल होने पहुंची थीं। किन्तु सेक्टर-35 स्थित चंडीगढ़ कांग्रेस भवन में ताला लगा देख वह अपने अन्य सहयोगियों के साथ धरने पर बैठ गईं। तब से सारी रात वहीं पर धरना चलता रहा।

शनिवार को पार्टी के चार पार्षदों क्रमश: देवेन्द्र ङ्क्षसह बबला, श्रीमती गुरबक्श रावत, शीला देवी और रविन्द्र कौर गुजराल के अलावा पार्टी के पदाधिकारी एचएस लक्की उन्हें मनाने के लिए पहुंचे और धरना समाप्त करने की अपील की। पर पूनम शर्मा टस से मस नहीं हुईं। उनकी जिद थी कि पार्टी कार्यालय में ताला लगाने वाले पार्टी प्रधान प्रदीप छाबड़ा आएं तभी कुछ बात हो सकेगी। बाद में छाबड़ा के मौके पर पहुंचने और ताला खोलने के साथ ही उनका धरना समाप्त हुआ। पूनम शर्मा ने अर्थ प्रकाश के साथ बातचीत में कहा कि उनके धरने की खबर दिल्ली पार्टी हाईकमान के कान तक पहुंच चुकी थी। वहां से पवन बंसल को भी धरना स्थल पर जाने के लिए कहा गया।

अंतत: पवन बंसल के अलावा पार्टी के अन्य वरिष्ठ नेता एवं पदाधिकारी भी मौके पर पहुंचे। फिर पूनम शर्मा ने वहां पर डॉ. नवजोत कौर सिद्धू को भी बुलाया। उनके मान सम्मान के साथ ही इस धरने का समापन हो सका। बता दें कि पूनम शर्मा पिछले एमसी सदन में मेयर पद पर भी रह चुकी हैं। इस दौरान उनकी दबंगई पूरे शहर ने देखी है। यही नहीं उन्हें दबंग मेयर के नाम से भी लोग बुलाते थे। इसके पूर्व शहर में नशा विरोधी मुहिम में भी उनका बड़ा योगदान रहा है। ट्रैक्टर चलाना, मोटरसाइकिल चलाना भी उनकी हॉबी में विशेष रूप से शामिल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share