Home » Photo Feature » लॉटरी टिकट की नहीं चली दुकान तो परेशान होकर खुद ही आजमा ली किस्मत, लगी 12 करोड़ की लॉटरी
12 crore lottery

लॉटरी टिकट की नहीं चली दुकान तो परेशान होकर खुद ही आजमा ली किस्मत, लगी 12 करोड़ की लॉटरी

12 crore lottery : इस मामले को देखकर कह सकते हैं कि सब किस्मत की मेहरबानी का नतीजा है| मतलब जो किस्मत में लिखा है वो चलकर जरुर आएगा और जो नहीं लिखा है वो आपके पास से चलकर चला जायेगा| केरल में एक लॉटरी टिकट विक्रेता पर किस्मत की गजब की मेहरबानी दिखी है|टिकट विक्रेता को किस्मत ने फर्श से सीधा अर्श पर पहुंचा दिया है| टिकट विक्रेता की ऐसी किस्मत चमकी है कि वह करोड़पति बन गया है| अगले को 12 करोड़ की लॉटरी लगी है जिसकी उम्मीद उसे सपने में भी नहीं थी| टिकट विक्रेता ने कभी नहीं सोचा था वह अपनी जिंदगी में करोड़पति भी बनेगा लेकिन कहते हैं कि भगवान की कृपा कब हो जाये और कब आपकी किस्मत में रंगत आ जाये इस बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता|

नहीं बिक रहीं थीं टिकटें तो खुद ही आजमा ली किस्मत….

लॉटरी टिकट विक्रेता का नाम शराफुद्दीन(46) है| शराफुद्दीन बताते हैं कि वो पहले सऊदी अरब में काम करते थे। कुछ दिक्कतों के कारण उन्हें वहां से वापस केरल आना पड़ा। जिसके बाद कोल्लम में उन्होंने घर चलाने के लिए एक छोटी सी दुकान खोली लेकिन उनकी दुकान चल नहीं पाई और जिसके बाद उनकी हालत ज्यादा खराब होने लग गई| घर का पालन-पोषण नहीं हो पा रहा था| ऐसे में उन्होंने घर चलाने के लिए लॉटरी टिकट बेचने का काम शुरू कर दिया| परन्तु यहां भी उनकी किस्मत ख़राब रही लॉटरी टिकट की बिक्री सही से न हो सकी| जहां बेहद थकहारकर हताश होकर उन्होने खुद ही न बिकने वालीं कुछ टिकटों का उपयोग कर लिया| नतीजतन इन टिकटों में उनकी एक टिकट उनके लिए लकी साबित हो गई|सरकार की लॉटरी का जब नतीजा निकाला गया तो उसमें शराफुद्दीन की एक लॉटरी टिकट का नंबर लग गया और शराफुद्दीन की 12 करोड़ की लॉटरी लग गई|

अपना घर बनाना चाहता हूं….

12 करोड़ की लॉटरी(12 crore lottery) लगने के बाद शराफुद्दीन का कहना है कि अब वो जब करोड़पति बन गए हैं तो वह पहले अपना अपना पूरा कर्ज चुकाऊंगे और एक नया व्यापार शुरू करेंगे।वे घर का निर्माण भी करवायेगें| शराफुद्दीन के परिवार में मां, दो भाई, पत्नी और एक बेटा परवेज है। उनका बेटा परवेज अभी 10वीं क्लास में पढ़ता है।

12 करोड़ रुपये पूरे नहीं मिलेंगे…

शराफुद्दीन ने इस लॉटरी में 12 करोड़ रुपये जीते जरूर हैं मगर टैक्स और कमीशन कटने के बाद उनके खाते में करीब 7.50 करोड़ रुपये आएंगे। लॉटरी पर 30 प्रतिशत टैक्स और 10 प्रतिशत एजेंट कमीशन कटता है। बची हुई रकम विजेता को दी जाती है।शराफुद्दीन और उनके परिवार को अभी भी विश्वास नहीं हो रहा है कि वो इतनी बड़ी रकम जीत चुके हैं|

ये भी पढ़ें- शर्मनाक: खाकी के साये में Sex racket, पहले कॉलगर्ल लड़कों को फंसाती थी, फिर रेड डालकर वसूली जाती थी मोटी रकम

 

 

Check Also

यह है सच्चाई अपने आप ATM से निकलने लगे 500- 500 के नोट, जमीन पर रुपये ही रुपये,

बोकारो. झारखंड के बोकारो में अचानक एटीएम (ATM) से रुपया निकलने लगा. घटना चास स्थित …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share
See our YouTube Channel