Home » अर्थ प्रकाश विशेष » लॉकडाउन ने अटकाई खिलाड़ी कुमार की सात फिल्में

लॉकडाउन ने अटकाई खिलाड़ी कुमार की सात फिल्में

क्या करें अक्षय कुमार ?

पंजाबी मुंडा अक्षय कुमार उफऱ् राजीव भाटिया उफऱ् खिलाडी कुमार इन दिनों परेशान हैं। लोकडाउन की वजह से उनकी सात फि़ल्में अटक गई हैं। अक्षय बॉलीवुड के एकमात्र ऐसे स्टार हैं, जो एक साल में तीन-चार फि़ल्में देते हैं। अक्षय के प्रशंसकों को हमेशा उनकी फिल्मों का बेसब्री से इन्तजार रहता है। अक्षय की इस समय बड़े बजट की फिल्म ‘सूर्यवंश’ तैयार है। ‘लक्ष्मी बॉम्ब’, ‘बेल बॉटम’, ‘पृथ्वी राज’, ‘बच्चन पांडे’ और ‘अतरंगी रे’ में भी अक्षय ही हैं। लोकडाउन के चलते न केवल फिल्मों की शूटिंग रुक गई, बल्कि फिल्मों की रिलीज भी रुक गई। हालात कब सामान्य होंगे, कब सिनेमा हाल खुलेंगे कुछ कहना मुश्किल है। इसी वजह से अक्षय परेशान हैं।

आयुष्मान असहमत हैं

चंडीगढ़ की शान आयुष्मान खुराना भी थोड़े परेशान नजर आते हैं। बॉलीवुड के सुपर स्टार अमिताभ बच्चन के साथ उनकी फिल्म ‘गुलाबो सिताबो’ रिलीज के लिए तैयार है। आयुष्मान ने पहली बार बिग बी के साथ काम किया है। वे लगातार हिट फि़ल्में दे रहे हैं। उम्मीद की जा रही है कि ‘गुलाबो सिताबो’ भी दर्शकों को पसंद आएगी। लेकिन लोकडाउन ने उनके अरमानों पर पानी फेर दिया है। सिनेमा हाल बंद होने की वजह से निर्माता अपनी यह फिल्म डिजिटल प्लेटफॉर्म पर रिलीज करने की सोच रहे हैं, जबकि आयुष्मान इससे सहमत नहीं हैं। कहा जा रहा है कि डिजिटल प्लेटफॉर्म पर रिलीज होने से फिल्म को एक साथ दो सौ देशों के लोग देख सकेंगे। देखना है कि दर्शकों की क्या प्रतिक्रिया आती है।

ट्रोल हुए अनुपम खेर

हिमाचली से मुंबई जा कर अपनी जगह बनाने में कामयाब रहे फिल्म अभिनेता अनुपम खेर सोशल मीडिया पर खूब एक्टिव रहते हैं। किसी भी मुद्दे पर वे बड़ी बेबाकी से अपनी राय रखते हैं, लेकिन इस बार खेर को लोगों ने खूब खरी-खोटी सुनाई है।खेर ने अपने राज्यों को लौटते प्रवासी मजदूरों पर एक कविता लिखी है। इस कविता में उन्होंने सड़कों पर पैदल चल रहे मजदूरों की तकलीफ को मार्मिक शब्द दिए हैं। उन्हें लगातार ट्रोल किया जा रहा है। यूजर्स ने लिखा है, ढोंग बंद कीजिए। नकली दिखावा नहीं चलेगा। लोगों ने उन्हें कहा है कि अच्छा होता कि इस कविता के साथ आप प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को टैग करते। लोगों की मदद के लिए उन्हें सरकार से दखल दिलाने की नसीहत दी है।

‘लूटकेस’ में कुणाल खेमू

कश्मीर के एक पंडित परिवार में जन्मे कुणाल खेमू जल्दी ही फिल्म ‘लूटकेस’ में नजर आएंगे। इसके साथ ही उनकी एक और फिल्म ‘गो, गोवा, गोन-2’ भी आएगी। खेमू ने सबसे पहले बतौर बाल कलाकार दूरदर्शन के धारावाहिक ‘गुल, गुलशन, गुलफाम’ में काम किया था। इसके बाद उन्हें ‘सर’, ‘राजा हिन्दुस्तानी’ और ‘जख्म’ जैसी फिल्मों में काम करने का मौका मिला। उन्होंने आज से ठीक पंद्रह साल पहले फिल्म ‘कलयुग’ में हीरो की भूमिका निभाई थी। थोड़े समय पहले खेमू फिल्म ‘मलंग’ में भी नजर आये थे। भले ही खेमू ने इस दौरान ज्यादा फि़ल्में नहीं की, लेकिन उनकी जितनी भी फि़ल्में आई हैं, सब में उनके अभिनय की सराहना हुई है। अब उनकी उम्मीद ‘लूटकेस’ पर टिकी है।

रकुलप्रीत ने घटाया वजन

पंजाबी कुड़ी राकुलप्रीत सिंह लोकडाउन में अपना वजन घटा रही हैं। इस समय का उन्होंने सही सदुपयोग करते हुए डेढ़ महीने में अपना आठ किलो वजन घटा लिया है। रकुल की अजय देवगन के साथ आई फिल्म ‘दे दे प्यार दे’ को रिलीज हुए एक साल हो गया है। रकुल के लिए अनुशासन सर्वोपरि है। वे संतुलित आहार लेती हैं। शरीर को वे एक मंदिर की तरह मानती हैं। हिंदी और तेलुगु फिल्मों में काम को लेकर जब उनसे सवाल किया गया तो रकुल ने कहा, ‘मेरे लिए भाषा नहीं, बल्कि फिल्म का कंटेंट ज्यादा मायने रखता है।’ उधर, तेलुगु फिल्मों के निर्देशक नहीं चाहते कि उनकी नायिका ज्यादा दुबली-पतली नजर आये। सब जानते हैं कि दक्षिण में मांसल नायिकाओं को ही पसंद किया जाता है।

समय बड़ा बलवान

एक समय था, जब सतीश कौल को पंजाबी फिल्मों का अमिताभ बच्चन कहा जाता था। कौल किसी जमाने में करोड़पति थे और बड़े-बड़े निर्माता-निर्देशक उनके साथ काम करने के सपने देखा करते थे। कौल ने बी.आर. चोपड़ा के धारावाहिक ‘महाभारत’ में में देवराज इंद्र का किरदार निभाया था। उनके किरदार की उस दौरान खूब प्रशंसा हुई थी। वे अभिनय में जान डाल देने वाले अभिनेता माने जाते रहे हैं। आतंकवाद के दौर में कौल का करियर उस समय खत्म हो गया, जब लुधियाना में उन्होंने अपना एक्टिंग स्कूल खोला। उनका यह एक्टिंग स्कूल फ्लॉप हो गया और इसमें लगे सारे पैसे डूब गए। इस बीच कौल गंभीर रूप से बीमार पड़ गए और इन दिनों वृद्धाश्रम में रहने को मजबूर हैं।

-प्रस्तुति : सुमित्रा

Check Also

शादी के बाद भी दो महीने से ज्यादा दिनों तक लड़की वालों के यहां टिके रहे बाराती

दुल्हन का 71 दिन बाद गृह प्रवेश कोरोना संकट की वजह से दुल्हन को गृह …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Share
See our YouTube Channel