ब्रेकिंग न्यूज़
Home » breaking news » मेयर बोले घर से करेंगे सफाई की शुरुवात –
मेयर बोले घर से करेंगे सफाई की शुरुवात –
Newly elected Mayor, Mr. Davesh Moudgil along with MP, Mrs. Kirron Kher, Mr. Satya Pal Jain, Ex-M.P., Additional Solicitor General of India and others called on the Governor of Punjab and Administrator, UT, Chandigarh, Shri V.P. Singh Badnore at Punjab Raj Bhawan, Chandigarh on Thursday, January 11, 2018.

मेयर बोले घर से करेंगे सफाई की शुरुवात –

 

Newly elected Mayor, Mr. Davesh Moudgil along with MP, Mrs. Kirron Kher, Mr. Satya Pal Jain, Ex-M.P., Additional Solicitor General of India and others called on the Governor of Punjab and Administrator, UT, Chandigarh, Shri V.P. Singh Badnore at Punjab Raj Bhawan, Chandigarh on Thursday, January 11, 2018.

चण्डीगढ़। राष्ट्रीय स्वच्छ सर्वेक्षण 2018में चंडीगढ़ को पहले नम्बर पर लाने के लिए आज अपने पहले संवाददाता सम्मेलन में मेयर देवेश मोदगिल ने कहा कि हमें अपने घरों से ही स्वच्छता अभियान की शुरुआत करनी होगी। इसके अलावा इसे जनांदोलन बनाने की महती आवश्यकता है।
उन्होंने कहा कि घर से ही सूखे कचरे और गीले कचरे को अलग-अलग बिन्स में रखकर ही वेस्ट कलेक्टर को देना होगा। इससे इन कचरों की प्रोसेसिंग भी आसानी के साथ की जा सकेगी और प्लांट तक इन्हें ले जाने में भी आसानी रहेगी। मेयर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की महत्वाकांक्षी योजना ‘स्वच्छ भारत मिशन को सफल बनाने के लिए हमें अपने शहर की विशेष सफाई व्यवस्था को और भी मजबूत करने की आवश्यकता है। हमारे पास संसाधनों की कोई कमी नहीं है, अपितु इसके लिए अलख जगाने की जरूत है।
मेयर ने कहा कि सफाई घरों से लेकर सड़कों, पार्कों, बाजारों और सार्वजनिक स्थानों की भी करने की जरूरत है, ताकि स्वच्छ सर्वेक्षण के आने वाले परिणाम में हमारा शहर पहले पायदान पर पहुंच सके।
कचरे के सेग्रीगेशन के लिए गत वर्ष आर.डब्ल्यू.ए., पार्षदों और संबंधित कर्मचारियों को हरे और नीले डस्टबिन में डालने के लिए पूरे शहर में लगभग 98 प्रतिशत बिन्स वितरित किये जा चुके हैं, फिर भी यदि कोई कमी रह गई है तो उसका प्रबंध भी कर लिया जाएगा।
उन्होंने कहा कि इस काम के लिए उनकी तरफ से तीन फार्मूले बनाए गए हैं। मैन, मिशन एंड मशीन। इन सभी फार्मूलों के तहत शहर को साफ-सुथरा बनाकर नये चंडीगढ़ के सपने को साकार करने के लिए वे कोई कसर नहीं छोडेंग़े।
इसके पूर्व निगमायुक्त आईएएस जीतेंद्र यादव ने इस पर प्रकाश डालते हुए कहा कि सूखे और गीले कचरे को अलग-अलग रखने के लिए सफाई कर्मियों भी प्रशिक्षित किया जा रहा है।
आयुक्त ने कहा कि स्वच्छ सर्वेक्षण पूरा होने तक निगम के सभी सफाई कर्मियों को तीन माह तक छुट्टी न देने का निर्णय लिया गया है। यह इसलिए किया गया है, ताकि इस अभियान में कर्मियों की कमी के चलते कोई परेशानी न आने पाए।
उन्होंने कहा कि ‘पैन इंडिया द्वारा किये गये सर्वेक्षण का परिणाम इसी माह तक आने की संभावना है। ‘स्वच्छता एप डाउनलोड भी अपेक्षित संख्या में किये गये हैं। इस अवसर पर पंजाबी गायब और कलाकार मीत निमान को स्वच्छ सर्वेक्षण का अतिरिक्त ब्रांड अंबेसडर बनाया गया। उन्हें प्रमाणपत्र देकर और शाल ओढ़ाकर सम्मानित भी किया गया। इसी बीच आज महापौर अपने अन्य साथियों के साथ पंजाब के राज्यपाल एवं नगर प्रशासक वी.पी. सिंह बदनोर से भी मिले।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Share