ब्रेकिंग न्यूज़
Home » Tri-city » संजय समर्थकों को एक और झटका :

संजय समर्थकों को एक और झटका :

चंडीगढ़ -नगर निगम महापौर के नौ जनवरी के चुनाव को लेकर जहाँ भाजपा में गुटबंदी शिखर पर है वहीं पर आज मनोनीत पार्षदों को लेकर सुप्रीम कोर्ट में चल रहे मामले को लेकर फैसला न होने पर पार्टी अध्यक्ष संजय टंडन  समर्थकों को एक और झटका लगा है हालांकि उम्मीद थी कि मनोनीत पार्षदों के सम्बन्ध में आज फैसला आ जायेगा और उससे पार्टी में बागी होकर खड़े  समर्थकों को राहत मिल जाएगी |
लेकिन आज सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले को लेकर अगली सुनवाई 15 जनवरी को निर्धारित कर दी है ज्ञात रहे मेयर पद के लिए भाजपा बागी उम्मीदवार आशा जसवाल को भी सुप्रीम कोर्ट द्वारा मनोनीत पार्षदों के वोटिंग अधिकार को लेकर अनुकूल फैसला होने से उनका समर्थन मिलने की उम्मीद थी पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट द्वारा मनोनीत पार्षदों कि वोटिंग अधिकार को रद्द किये जाने के बाद यूटी प्रशाशन ने इसके विरुद्ध सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी तथा इस पर स्टे माँगा था इस समय केवल 26 पार्षदों और स्थानीय सांसद को सदन में वोट का अधिकार है यदपि सदन में भाजपा को भारी बहुमत प्राप्त है तो इसके पास सांसद किरण खेर समेत 21 वोट है लेकिन पार्टी के दो ग्रुपो में फूट के चलते पार्टी की चिंता बढ़ गई है वर्तमान मेयर आशा जसवाल , जोकि निर्दलीय तौर पर मैदान में उत्तरी है का सम्बन्ध चंडीगढ़ भाजपा अध्यक्ष संजय टंडन ग्रुप के साथ है जो 10 से अधिक पार्षदों के समर्थन का दावा करता है पार्टी के आंतरिक सूत्र बताते है कि अधिकतर मनोनीत पार्षद संजय टंडन गुट के साथ निष्ठा रखते है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Share